Press "Enter" to skip to content

Indore News – तीन सूत्रीय मांगो को लेकर 47 विभागो के 16000 हजार कर्मचारी रहे सामूहिक अवकाश पर

* अधिकारियों को स्वयं गाडी चलाकर आना पड़ी व कई विभागों में ताले भी अपने हाथों से खोलने पड़े।
* आंदोलन के कारण टीकाकरण व लाइसेंस की ट्रायल भी बंद करनी पड़ी
* संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर शासकीय कार्यालयों में रहा सन्नाटा।
* कर्मचारियों में दिखा शासन के प्रति जमकर आक्रोश
इंदौर. मध्यप्रदेश अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चे के प्रांतीय आह्वान पर प्रदेश भर के कर्मचारी अपनी मांगों के समर्थन में कल 29 जुलाई को एक दिवसीय सामूहिक अवकाश पर रहे. वहीँ मोर्चे में शामिल 22 मान्यता एवं गैर मान्यता प्राप्त कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारियों ने कलेक्टर कार्यालय पहुँच कर मोर्चे के संरक्षक हरीश बोयत एवं जिलाध्यक्ष रमेश यादव की अगुवाई में शासन के विरूद्ध जमकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया.
 
गुरुवार को शिक्षा, स्वास्थ्य, वन, कलेक्ट्रेट, महिला बाल विकास, परिवहन, सेल टैक्स, पंचायत, राजस्व, तहसील, खनिज निगम, उच्च शिक्षा आदि सभी विभागो में कार्यरत अधिकारी एवं कर्मचारियों के सामूहिक अवकाश पर रहने से विभागों में लॉकडाउन जैसा सन्नाटा पसरा रहा. कर्मचारियों ने उत्साह पूर्वक अपनी मांगों के संदर्भ में मोर्चे को खुलकर समर्थन दिया.
 
मोर्चे के संरक्षक हरीश बोयत ने संबोधित करते हुए कहा कि शासन के समक्ष हमने अपनी तीन सूत्रीय मांगे रखी है , जब तक उनका निराकरण नहीं हो जाता हमारा आंदोलन अनवरत जारी रहेगा एवं आगे भी अनिश्चितकालीन हड़ताल व तालाबंदी की जाएगी.
उन्होंने कहा कि कर्मचारी वही मांग रहे जो उनका वाजिब हक है. मोर्चा के जिलाध्यक्ष रमेश यादव सहित तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष राजकुमार पांडेय, स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष शेखर जोशी,लघु वेतन कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष भीम सिंह कुशवाह,राज्य कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष देवेन्द्र सिंह रघुवंशी, शिक्षक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष आलोक परमार, लिपिक वर्गीय कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष प्रकाश दुबे, संभागीय अध्यक्ष हरीश शुक्ला, पंचायत समन्वय अधिकारी संघ के संभागीय अध्यक्ष कौशल किशोर नंद, शासकीय अध्यापक संगठन के जिलाध्यक्ष प्रवीण यादव, महामंत्री अशोक मालवीय, सेल टैक्स कर्मचारी संघ के प्रांतीय अध्यक्ष मोहन गोड, प्रांतीय संयोजक गणेश रायकवार, , पुरानी पेंशन बहाली राष्ट्रीय आंदोलन के जिलाध्यक्ष दिनेश परमार, कर्मचारी कांग्रेस के जिलाध्यक्ष महेश गोठवाल, निधि विधान, रितिका सेंगर आदि अनेक कर्मचारी नेताओं ने भी इस अवसर पर संबोधित किया.
 
मोर्चे के प्रवक्ता एवं मीडिया प्रभारी दिनेश परमार ने बताया कि मोर्चे के प्रांतीय आह्वान पर इंदौर जिले के 16 हजार अधिकारी और कर्मचारी भी केन्द्र के समान राज्य कर्मचारियों का भी 16 प्रतिशत डीए, पदोन्नती तथा जुलाई 2020 की वेतन वृद्धि का वास्तविक लाभ व एरियर्स आदि मांगों के समर्थन में एक दिन के सामूहिक अवकाश पर रहे.
इस अवसर पर मोर्चे के योगेन्द्र श्रीवास्तव, पवन शर्मा, संदीप धोलपुरे, संजय अठवाल, रामनरेश यादव, भैयालाल खत्री, पुरषोत्तम बागोरा, आनंद हार्डिया, राधाकृष्ण शर्मा, अरुण कुमार पांडेय, रंजना दीक्षित, निशा जायसवाल, राजेन्द्र राणा,पवन मोहनिया, मनोहर परमार, विकास तिवारी, सुनील गौड़, नागपाल वर्मा,रितेश भनोदिया, जितेन्द्र परमार विपिन जोशी,अमित सक्सेना आदि सहित सैकड़ों कर्मचारी अधिकारी उपस्थित थे. संचालन राजकुमार पांडे एवं आभार भीम सिंह कुशवाह ने माना.
Spread the love
More from Indore NewsMore posts in Indore News »
%d bloggers like this: