Press "Enter" to skip to content

Indore News – मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लाभ के लिए 36 बच्चों का हुआ चयन

* बाल सेवा योजना के तहत चिन्हित बच्चों के पालक एवं सह पालक अधिकारियों का सम्मेलन संपन्न
* जैन समाज से जुड़े दानदाता ने 11 बच्चियों को लिया गोद
*सांसद लालवानी ने योजना अंतर्गत चिन्हित बच्चों की सहायता के लिए समाज सेवियों का किया आवाहन
Indore News: मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना अंतर्गत इंदौर जिले में चिन्हित 36 बच्चों के संरक्षक, पालक तथा सहपालक अधिकारियों का सम्मेलन आज प्रीतमलाल दुआ सभागृह में आयोजित किया गया। सम्मेलन में सांसद शंकर लालवानी एवं कलेक्टर मनीष सिंह ने योजना अंतर्गत चयनित बच्चों एवं उनके पालक तथा सहपालको से चर्चा कर बच्चों को उनका अधिकार दिलाने तथा हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दौरान अपर कलेक्टर पवन जैन, सभी संबंधित एसडीएम एवं अधिकारी और योजना के तहत चयनित किए गए बच्चे तथा उनके संरक्षक उपस्थित रहे।
यह केवल शासकीय कार्य नहीं बल्कि मानवता की सेवा है – सांसद लालवानी
सांसद ने बच्चों एवं पालक तथा सहपालको से चर्चा उपरांत संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शुरू की गई इस योजना का लाभ हर प्रभावित बच्चे तक पहुंचे इसके लिए हम सभी को भावनात्मक रूप से इस योजना का प्रभावी क्रियान्वयन करना है। उन्होंने कहा कि यह पुनीत कार्य शासकीय नहीं बल्कि मानवता का कार्य है। हमें हर संभव प्रयास करना है की कोविड-19 के कारण प्रभावित हुए इन बच्चों के भविष्य निर्माण में किसी भी तरह की कोई बाधा उत्पन्न ना हो।
जैन समाज के दानदाता ने 11 बच्चियों को लिया गोद
सांसद श्री लालवानी ने कहा कि इंदौर जिले में एक नई शुरुआत का आवाहन आज से हो रहा है। जहां समाजसेवी एवं अन्य दानदाता कोविड-19 के कारण अनाथ हुए बच्चों की सहायता के लिए स्वयं आगे आ रहे हैं। इसी क्रम में जैन समाज के एक दानदाता 11 बच्चियों को गोद लेने के लिए आगे आए हैं। दानदाता द्वारा बच्चियों की पढ़ाई लिखाई से लेकर शादी तक की सारी जिम्मेदारी संभालने की इच्छा व्यक्त की गई है। उन्होंने जिले के अन्य समाज सेवियों से भी इसी तरह आगे आकर जरूरतमंद बच्चों की मदद करने का आवाहन किया। उन्होंने कहा कि जब समाज इन बच्चों की सहायता के लिए आगे आएगा तब आगे जाकर यह बच्चे भी समाज के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करेंगे।
कलेक्टर ने कोविड-19 से प्रभावित हुए 235 बच्चों की स्कूल की फीस कराई माफ
कलेक्टर मनीष सिंह ने सभी संबंधित पालक एवं सहपालक अधिकारियों को निर्देश दिए कि योजना के तहत चयनित किए गए बच्चों के दिवंगत माता-पिता की चल एवं अचल संपत्ति, इंश्योरेंस, बैंक अकाउंट एवं अन्य सभी जरूरी जानकारी एकत्रित कर उसकी लिस्टिंग कर ली जाए, ताकि कोई भी बच्चा अपने हक से वंचित ना रहे। उन्होंने कहा कि सभी चयनित बच्चों को योजना अंतर्गत दी जाने वाली आर्थिक सहायता एवं नि:शुल्क राशन वितरण का पूर्णतः ध्यान रखा जाए। उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि उक्त कार्यों को पूरी संवेदनशीलता के साथ किया जाए। सांसद ने बताया कि कलेक्टर सिंह द्वारा व्यक्तिगत रूप से कोविड-19 से प्रभावित हुए बच्चों की सहायता करने के लिए हर संभव प्रयास किए गए हैं जिसके तहत उनके द्वारा कुल 235 बच्चों की स्कूल फिस माफ कराई गई है। सम्मेलन के अंत में सांसद लालवानी द्वारा बच्चों को गिफ्ट हैंपर भी वितरित किए गए।
Spread the love
%d bloggers like this: