Press "Enter" to skip to content

Indore News – निगमकर्मी कर रहे निजी प्लाटों से पेड़ो की अवैध कटाई

कर्मचारियों की मिलीभगत की शिकायत 

निगम के उद्यान विभाग में पदस्थ कर्मचारियों पर आरोप है कि उनकी मिलीभगत के चलते निजी भूखंड पर भी प्लाट मालिक से सांठगांठ कर पेड़ों को अवैध कटाई हो रही है। इस तरह की शिकायत अभी हाल ही में एक बार फिर से निगम में की है। इसमें सामाजिक कार्यकर्ता मुकेश वर्मा द्वारा लगातार शिकायतें की जा रही है। वहीं जब अधिकारियों से चर्चा का प्रयास किया है तो जाता वह चर्चा नहीं करते हैं।
बताया जाता है कि प्रदेश के हमारे मुख्यमन्त्री पौधा रोपण करवा रहे है। वही दूसरी ओर निगम उद्यान अधिकारी के मौखिक आदेश पर निगम टीम से अवैधानिक तौर पर पेखे की कटाई करवा रहे है। सामाजिक कार्यकर्ता ने आरोप लगाया है कि ए.बी रोड स्थित बसन्त पूरी कॉलोनी में एक प्लाट पर 5 से अधिक पेड़ो की कटाई निगम टीम से बगैर दस्तावेजों के अपने मौखिक आदेश पर कटाई दरोगा ओर टीम से कटवा रहे है। जब उनसे पेड़ कटाई पर चर्चा करना चाहो तो उद्यान अधिकारी बात करने को तैयार नहीं है। वरिष्ठ उच्च पदाधिकारी को व्हाट्सएप के माध्यम से अवगत करवाया गया है साथ ही निगम उद्यान कंट्रोल रूम पर शिकायत की गई है जिस पर झोन 13 के उद्यान दरोगा को भी अवगत करवाया गया है। शहर भर में मौखिक आदेश पर ही कई इलाकों में पेड़ काटे जा रहे हैं। एक ओर जहां हरियाली को बढ़ावा देने के लिए सरकार से लेकर नगर निगम द्वारा काम किए जा रहे हैं तो बाहर ही सामाजिक संस्थाओं द्वारा भी काम किया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर लगातार अवैध कटाई शहर भर में जारी है जिसके लिए एक अवैध कटाई करने वाली गैंग भी निगमकर्मियों के साथ विचरण करती रहती है। इस मामले की भी शिकायत कई बार निगम में भी की गई है लेकिन कोई कार्रवाई मि नहीं हुई है। सामाजिक कार्यकर्ता मुकेश वर्मा ने ल बताया कि लगातार पेड़ों की अवैध कटाई को उ लेकर मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 181 से लेकर 311 एप पर भी शिकायत की गई है लेकिन उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती है। इसमें कई बार कहा जाता है कि उद्यान अधिकारी ने मौखिक आदेश दिए है। अब यह समझ से परे है कि जब लिखित आदेश भी कर्मचारी नहीं मानते हैं तो फिर मौखिक आदेश पर किस तरह से निजी भूखंड से लेकर निजी घरों में पेड़ों की कटाई करने पहुंच जाते हैं। इस तरह की शिकायतें लगातार की जा रही है। इस मामले को लेकर निगम अधिकारियों से संपर्क नहीं हो सका। वही उद्यान अधिकारी भी कुछ बताने को तैयार नहीं है। शहर भर में अलग-अलग इस तरह से अवैध रूप से पेड़ों की कटाई को लेकर निगम में लगातार शिकायतें की जा रही है।
Spread the love
More from Indore NewsMore posts in Indore News »
%d bloggers like this: