Press "Enter" to skip to content

तीन दिवसीय ऑटो शो का शुभारंभ 

संभावनाओं से भरा है मध्यप्रदेश : मंत्री राज्यवर्धन दत्तीगांव

इन्दौर औद्योगिक क्षेत्र में मध्य प्रदेश ही नहीं देश का बनेगा केंद्र बिंदु : मंत्री तुलसीराम सिलावट
इन्दौर । मध्य प्रदेश के पहले ऑटो शो-2022 का शुभारंभ आज इन्दौर में हुआ। इस तीन दिवसीय ऑटो शो के उद्घाटन कार्यक्रम में औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन मंत्री राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव ने कहा कि मध्य प्रदेश विपुल संभावनाओं से भरा है। जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि इन्दौर मध्य प्रदेश का औद्योगिक केन्द्र बिन्दु है, अब इसे भारत का केन्द्र बिन्दु बनाना है।
उद्घाटन कार्यक्रम में औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग के प्रमुख सचिव संजय कुमार शुक्ला, संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा, सी.आई.आई. के मालवा क्षेत्र अध्यक्ष सौरभ मेहता तथा म.प्र. औद्योगिक विकास निगम इन्दौर के एमडी रोहन सक्सेना भी उपस्थित थे।
उद्घाटन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मंत्री राज्यवर्धन दत्तीगांव ने कहा कि मध्य प्रदेश में उद्योगों के अनुरूप नीतियों का सरलीकरण किया गया है। हमारे यहाँ उद्योग लगाने के लिए प्रचुर मात्रा में भूमि उपलब्ध है। साथ ही मध्य प्रदेश देश के केंद्र में होने के कारण सभी राज्यों के लिए अप्रोच में आसान है।
मध्य प्रदेश इज ऑफ डूइंग में भी देश में चौथे स्थान पर है। ऐसे में मध्य प्रदेश उद्योगों को लगाने के लिए देश में सबसे बेहतर अवसर उपलब्ध कराता है। मंत्री दत्तीगांव ने निवेशकों से सेमीकंडक्टर सेक्टर में भी उद्योग लगाने का आह्वान किया।

मंत्री दत्तीगांव ने ऑटो शो को मध्यप्रदेश में औद्योगिक वातावरण निर्माण के लिए एक बड़ा अवसर बताया। उन्होंने नागरिकों और इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों से यहाँ आकर आयोजन देखने का आह्वान भी किया।

जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने अपने उद्बोधन में कहा कि मध्य प्रदेश औद्योगिक क्षेत्र में तेज़ी से विकास कर रहा है। आने वाले समय में यह इस क्षेत्र में देश का केंद्र बिंदु भी बनेगा। उन्होंने एमपी ऑटो शो के आयोजन को इसी दिशा में एक मील का पत्थर कहा।
कार्यक्रम के प्रारंभ में औद्योगिक निति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग के प्रमुख सचिव संजय कुमार शुक्ला ने आयोजन के उद्देश्यों से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर मध्य प्रदेश में इस संबंध में लगातार काम हो रहे हैं।
उन्होंने हाल ही में कई देशों में अनाज के संकट को देखते हुए मध्य प्रदेश द्वारा गेहूं के निर्यात में की गई पहल को एक उपलब्धि बताया। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में उद्योग लगाने के लिए हर तरीक़े से बेहतर वातावरण उपलब्ध है। इन्दौर के निकट ही मेडिकल डिवाइस पार्क की स्थापना उज्जैन में की जा रही है। यह समूचे देश में स्थापित होने वाले चार मेडिकल डिवाइस में से एक है।
मंत्री द्वय ने कार्यक्रम स्थल में लगायी गई प्रदर्शनी का शुभारंभ भी किया और प्रत्येक स्टॉल में जाकर नई एवं आधुनिक तकनीक के उत्पादों का अवलोकन भी किया। म.प्र. औद्योगिक विकास निगम इन्दौर के एमडी रोहन सक्सेना ने कार्यक्रम के अंत में आभार जताया।
Spread the love
%d bloggers like this: