Press "Enter" to skip to content

पुडुचेरी में कांग्रेस की सरकार गिरी, सीएम नारायणसामी नहीं साबित कर सके बहुमत

पंजे की पकड़ से छूटा पुड्डुचेरी

पुड्डुचेरी में कांग्रेस और डीएमके के गठबंधन की सरकार गिर गई है। मुख्यमंत्री वी नारायणसामी सोमवार को सदन में बहुमत साबित नहीं कर पाए। इसके बाद मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी ने उप राज्यपाल तमिलिसाई सौंदरराजन से मुलाकात की और अपना इस्तीफा दिया। इससे पहले उपराज्यपाल तमिलसाईं सुंदरराजन ने विधानसभा में आज शाम पांच बजे तक बहुमत साबित करने का निर्देश दिया था।

सत्तारूढ़ गठबंधन की संख्या रविवार को दो नए इस्तीफे के बाद घटकर 11 हो गई थी। वहीं 33 सदस्यीय विधानसभा में विपक्ष के पास 14 विधायकों का समर्थन था। आज सदन में चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि विधायकों को पार्टी के प्रति वफादार होना चाहिए। वहीं उन्होंने पूर्व राज्यपाल और केंद्र सरकार पर विपक्ष के साथ साठगांठ करने का आरोप लगाया।

यह लोकतंत्र की हत्या है: नारायणसामी
इस्तीफा देने के बाद नारायणसामी ने कहा, ‘स्पीकर का फैसला गलत है। केंद्र में भाजपा सरकार, एनआर कांग्रेस और एआईएडीएमके 3 नामित सदस्यों द्वारा इस्तेमाल की गई मतदान शक्ति का उपयोग करके हमारी सरकार को भंग करने में सफल रहे हैं। यह लोकतंत्र की हत्या है। पुड्डुचेरी और इस देश के लोग उन्हें सबक सिखाएंगे।’अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हुई विधानसभा
विधानसभा अध्यक्ष का कहना है कि नारायणसामी सरकार बहुमत साबित नहीं कर सकी और सदन की कार्यवाही को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है। विपक्ष के नेता और ऑल इंडिया एनआर कांग्रेस के संस्थापक नेता एन रंगासामी ने कहा कि कांग्रेस अपने विधायकों को एकजुट रखने में विफल रही। नारायणसामी ने कहा, ‘विधायकों को पार्टी के प्रति वफादार रहना चाहिए। इस्तीफा देने वाले विधायक लोगों का सामना नहीं कर पाएंगे क्योंकि लोग उन्हें अवसरवादी कहेंगे।’

बहुमत के लिए 14 विधायकों का समर्थन चाहिए:
उल्लेखनीय है कि 33 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस-द्रमुक गठबंधन वाले विधायकों की संख्या घटकर 11 रह गई है. जबकि विपक्ष के पास 14 विधायक हैं. यानी कांग्रेस के पास 11 विधायकों (स्पीकर को लेकर 12) का समर्थन है, जबकि विधानसभा की वर्तमान स्थिति के मुताबिक उसे बहुमत के लिए 14 विधायकों का समर्थन चाहिए. हालांकि, फ्लोर टेस्ट से पहले मुख्यमंत्री नारायणसामी दावा करते रहे कि उनके पास निर्वाचित विधायकों में से बहुमत है.राहुल पर भाजपा का तंज
भारतीय जनता पार्टी के आईटी सेल के प्रभारी अमित मालवीय ने पुड्डुचेरी में कांग्रेस सरकार गिरने पर राहुल गांधी पर तंज कसा। उन्होंने अंग्रेजी में एक कहावत ट्वीट की जिसका अर्थ कुछ यूं निकलता है- जहां-जहां पैर पड़े वहां हुआ बंटाधार। उन्होंने लिखा, ‘राहुल गांधी पुड्डुचेरी गए और अपने मिडास टच को सच साबित किया। कांग्रेस ने केंद्र शासित प्रदेश में अपनी सरकार गंवा दी है।’
 पूर्व उपराज्यपाल और केंद्र पर मुख्यमंत्री ने साधा निशाना
मुख्यमंत्री नारायणसामी ने सदन में चर्चा करते हुए पूर्व उपराज्यपाल और केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा, ‘पूर्व उपराज्यपाल किरण बेदी और केंद्र सरकार ने विपक्ष के साथ साठगांठ की और सरकार को गिराने की कोशिश की। जैसे ही हमारे विधायक एकजुट हुए, हम लगभग पांच साल पूरे करने में सफल रहे। केंद्र ने हमारे द्वारा मांगी गई धनराशि न देकर पुड्डुचेरी के लोगों के साथ धोखा किया है। हमने द्रमुक और निर्दलीय विधायकों के समर्थन से सरकार बनाई। इसके बाद, हमने विभिन्न चुनावों का सामना किया। हमने सभी उपचुनाव जीते हैं। यह स्पष्ट है कि पुड्डुचेरी के लोग हम पर भरोसा करते हैं। तमिलनाडु और पुड्डुचेरी में, हम दो भाषीय प्रणाली का पालन करते हैं लेकिन भाजपा हिंदी को लागू करने की जबरन कोशिश कर रही है।

आगे पढ़े

Spread the love

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat