Press "Enter" to skip to content

इंदौर कलेक्टर का नया फरमान, किराना दुकान एवं अन्य पर लिये ये निर्णय, देखें

0

 162 total views

जनता कर्फ्यू की सख्ती के बाबजूद इंदौर में कोरोना की चेन टूट नहीं रही है लगातार 1800 से ज्यादा मामले रोज आ रहे है, इसी की चिंता अधिकारीयों में बढती जा रही है | बढ़ते कोरोना को देखते हुए कलेक्टर ने सोमवार दोपहर शहर के सबसे बड़े किराना बाजार सियागंज को आगामी आदेश तक बंद करने के आदेश दिए हैं। वहीं, रात को आदेश जारी करते हुए शहर के सभी छोटी- बड़ी किराना दुकानों को सप्ताह में दो यानी सोमवार और गुरुवार को ही खुले रहने का फैसला किया। निर्धारित दोनों दिन ये दुकानें सुबह 6:00 से शाम 5:00 बजे तक खुली रह सकेंगी। वहीं, दूसरी ओर सब्जी और दूध डेयरी का समय यथावत रहेगा। ताजा आदेश में भी शादियों पर रोक बरकरार रखी गई है। वकीलों को बार एसोसिएशन की अनुशंसा पर घर से ऑफिस जाने के लिए पास जारी किए जाएंगे। हाईकोर्ट के निर्देश के बाद यह फैसला लिया गया है।

प्रशासन ने कोरोना कर्फ्यू में शहर के सबसे बड़े किराना मार्केट को राहत दी थी, लेकिन इस दौरान बाजार में भीड़ दिखाई दे रही थी। इस कारण प्रशासन ने सोमवार को सियागंज को आगामी आदेश तक बंद करने के आदेश दे दिए। एडीएम पवन जैन ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा, सियागंज में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा था।

प्रशासन ने सख्ती भी की थी। कुछ दुकानें सील करने की कार्रवाई भी की थी, लेकिन बाद में फिर दुकानों पर भीड़ बढ़ती गई। इसे देखते हुए सुबह कलेक्टर मनीष सिंह ने अधिकारियों को सियागंज का दौरा करने भेजा था। वहां से अधिकारियों ने कलेक्टर को जो रिपोर्ट दी, उसके बाद सियागंज को बंद करने के आदेश कलेक्टर ने जारी कर दिए। जैन ने कहा कि सियागंज एसोसिएशन ने 3 दिन बंद और 3 दिन चालू रखने का निर्णय भी लिया था, लेकिन उसका पालन भी नहीं देखा गया। कलेक्टर के आदेश होते ही टीम सियागंज को बंद कराने निकल पड़ी। इस आदेश का वाहनों द्वारा प्रचार भी किया गया।

आगे पढ़े

Spread the love
More from इंदौरMore posts in इंदौर »