Press "Enter" to skip to content

मप्र की सकल राजस्व प्राप्तियों में 17.13 प्रतिशत की बढ़ोतरी, जीएसटी में 102.81 प्रतिशत रही उपलब्धि

इन्दौर। राज्य शासन की बेहतर कर नीति, वित्तीय अनुशासन और करदाताओं को अनुकूल वातावरण उपलब्ध कराने के परिणामस्वरूप वित्तीय वर्ष 2021-22 में सकल राजस्व प्राप्तियों में 17.13 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।
पिछले वर्ष सकल राजस्व प्राप्ति 57,720 करोड़ रूपये थी, जो इस वर्ष 67609 करोड़ रूपये हो गई हैं। यह पिछले वर्ष की तुलना में लगभग 17.13 प्रतिशत अधिक है।

वाणिज्यिक कर विभाग के अनुसार जीएसटी का लक्ष्य 21600 करोड़ रूपये का था, जिसके विरूद्ध 22206.01 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुई।
इस प्रकार प्राप्तियों में 102.81 प्रतिशत की उपलब्धि रही। नान जीएसटी करों में 16,540 करोड रूपये का लक्ष्य था, जिसके विरूद्ध 16745.35 करोड़ रूपये प्राप्ति कर 101.24 प्रतिशत की उपलब्धि हासिल की गई।
पंजीयन और स्टांप शुल्क में 7400 करोड़ रूपये के लक्ष्य के विरूद्ध 8164.85 करोड़ रूपये प्राप्ति कर 110.34 प्रतिशत उपलब्धि हासिल की गई। आबकारी में 10,340 करोड़ रूपये लक्ष्य के विरुद्ध प्राप्ति 10386 करोड़ रूपये रही, जो 100.45 प्रतिशत है।
 

वित्त मंत्री देवड़ा ने करदाताओं का जताया आभार


वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने सभी करदाताओं का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि यह करदाताओं में सरकार की नीतियों में विश्वास को दर्शाता है।
विकास के प्रति प्रतिबद्धता के चलते करदाताओं का प्रदेश के विकास में सराहनीय योगदान है। उन्होंने कहा कि यह उपलब्धि करदाताओं के सहयोग के बिना हासिल नहीं हो सकती थी।
उन्होंने सभी करदाताओं को अपना कर दायित्व पूरी ज़िम्मेदारी से निभाने के जज्बे की सराहना की है।
Spread the love
%d bloggers like this: