Press "Enter" to skip to content

मप्र के देवास में आदिवासी महिला से दुष्कर्म का मामला आया सामने, दुष्कर्म पीड़ित महिला ने कन्नौद पुलिस थाने पर रिपोर्ट दर्ज नहीं करने का लगाया आरोप

जीजा ने किया दुष्कर्म थाने पर रिपोर्ट नहीं लिखने से परेशान होकर महिला ने देवास एसपी से की शिकायत

देवास: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मध्य प्रदेश में महिलाओं के  खिलाफ बढ़ते अपराध का कलंक को मिटाने के लिए मोर्चा संभाले हुए हैं। मंच से अपने अंदाज में गुंडे माफियाओं का फन कुचलकर उनकी संपत्ति को बुलडोजर से नेस्तनाबूद करने का आम सभा में फरमान जारी करते हुए दिखाई दे रहे हैं।
वहीं दूसरी ओर दुष्कर्म पीड़ित महिला महीनों बीत जाने के बाद भी न्याय से कोसों दूर है। देवास के कन्नौद थाना अंतर्गत आदिवासी महिला के साथ में जीजा द्वारा दुष्कर्म की घटना का मामला सामने आया है।
पीड़ित महिला लिखित आवेदन पत्र लेकर रिपोर्ट दर्ज कराने को लेकर कन्नौद थाने के चक्कर लगाने के बाद रिपोर्ट दर्ज कराने का विश्वास लेकर मंगलवार को एसपी ऑफिस पहुंची थी।

पीड़िता के अनुसार मेरे पति के अन्य अपराध में जेल जाने के बाद तीन बच्चों के साथ घर पर अकेली रहती थी। मेरी छोटी बहन व मेरा जीजा शासकीय शिक्षक है।

बहन एवं जीजा ने बार-बार फोन लगाकर मेरे पति को जेल से छुड़वाने के लिए व बाबा तांत्रिक से मिलवाने महिदपुर बुलाया.

13 जुलाई 2017 को रामाधार मुझसे जबरदस्ती करने लगा मैंने मना किया मेरी बहन को आवाज लगाई और रोने लगी तो मेरी बहन ने कहा कि उनकी ऐसी ही आदत है मैं खुद परेशान हूं ।
जीजा मुझे उठा कर दूसरे कमरे में ले गया और दुष्कर्म किया। उन्होंने कहा तेरे पति को हम बाबा के माध्यम से जेल से छुड़वा देंगे।
यह बात किसी को मत बताना यदि तुमने किसी को बताया तो तेरे पति को पता लग गया तो तुझे छोड़ देगा और तू बदनाम हो जावेगी। तेरा पति जेल में सड़ जाएगा।
रामाधार के द्वारा मेरे साथ यौन शोषण कई बार किया व मेरे से रुपए रकम लेते रहे। दिनांक 27 सितंबर 2021 को रामाधार खेत पर आए थे वहां पर भी मेरे साथ जबरन दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया यह घटना मेरे बेटे ने देख ली, मेरे बेटे का मेरी बहन गला दबाने लगी थी और कहने लगी थी किसी को बताना मत नहीं तो तुझे जान से मार दूंगी।
रामाधार मुझे मोबाइल पर धमकी के साथ गंदे गंदे मैसेज भेजे। दिनांक 11 अक्टूबर 2021 को कन्नौद थाने में रिपोर्ट लिखवाने गई तो मुझे कहा गया कि अभी मैडम नहीं है।
29 मार्च 2022 मंगलवार को कन्नौद थाने पर आकर रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंची तो मुझे  कहा गया कि घटना बहुत पुरानी हो चुकी है मेरी रिपोर्ट नहीं लिखी गई। अब देवास एसपी से की शिकायत की है |
खबर : सहयोगी चंचल भारतीय (कन्नौद) 
Spread the love
More from Crime NewsMore posts in Crime News »
%d bloggers like this: