Press "Enter" to skip to content

पान के पत्ते का सेवन अल्सर, डायबिटीज, सर्दी जुकाम समेत कई बीमारियों के लिए है फायदेमंद

Health News. हिंदुस्तान में पान के पत्ते बहुत काम आते हैं. ख़ास कर पान खाने वाले भारत में बहुत हैं. फिर चाहे वो मीठा पान हो या चूने वाला. पान के पत्तों का इस्तेमाल पूजा पाठ, शादी में भी किया जाता है.
पान की पत्तियां खाने के लिहाज से थोड़ी कसैली होती हैं. हालांकि, इन पत्तियों में कई तरह के पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो सेहत को लाभ पहुंचाते हैं.
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पान के पत्ते में टैनिन, प्रोपेन, एल्केलाइड फिनाइल पाया जाता है, जो शरीर में दर्द सूजन को कम करने में मददगार होता है.
ऐसे ही पान के पत्ते शरीर में कई बदलाव करते हैं. तो आइये जानते हैं क्या बदलाव करते हैं पान के पत्ते.

पाचन क्रिया बढ़ाए

पान के पत्तों को चबाना पाचन क्रिया के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है. कब्ज एसिडिटी जैसी समस्याओं से निजात पाने के लिए पान की पत्तियां चबानी चाहिए. अल्सर जैसी बीमारियों को ठीक करने के लिए पान की पत्तियां चबानी चाहिए.
मसूड़ों की सूजन करे गायब
यदि किसी व्यक्ति को मसूड़ों में सूजन है तो उन्हें भी पान की पत्तियां चबानी चाहिए. इन पत्तियों में पाए जाने वाले तत्व मसूड़ों की सूजन को कम करते हैं मसूड़ों में उभरी हुई गांठों को भी ठीक करते हैं.

कंट्रोल में रखे डायबिटीज

पान की पत्तियों का सेवन करने से शरीर में ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है. डायबिटीज के मरीज़ो को पान की पत्तियां चबानी चाहिए.
सर्दी जुकाम में फायदेमंद
साधारण बीमारियों जैसे सर्दी, एलर्जी, सिरदर्द या शरीर के किसी हिस्से में आई सूजन या चोट से छुटकारा पाने के लिए पान के पत्ते चबाना लाभकारी होता है.
अगर आपको सर्दी जुकाम है तो पान के पत्तों पर शहद लगा कर खाने से सर्दी ठीक होती है. साथ ही अगर कोई चोट लगी है तो पान की पतियों को चबाने से घाव जल्दी भर जाते हैं.
Spread the love
More from Health NewsMore posts in Health News »
%d bloggers like this: