Press "Enter" to skip to content

वजन घटाने और डायबिटीज को कम करने में मददगार है ‘लौंग’

Health Tips. लौंग एक लोकप्रिय सुगंधित मसाला है. जो सेहत के लिए फायदेमंद होता है. ये खाने में स्वाद बढ़ाने वाले एजेंट के रूप में भी काम करता है. साथ ही कई सारे रोगों से भी हमें बचाता है. इसमें औषधीय गुण भी होते हैं. लौंग में एंटीसेप्टिक, एंटीवायरल और एंटीमाइक्रोबियल गुण भी होते हैं.

इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण शरीर को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाते हैं. आप साबुत लौंग और इसके तेल का इस्तेमाल भी कर सकते हैं. लौंग में कई पोषक तत्व होते हैं.

इसमें फाइबर, विटामिन के और मैंगनीज होता है. लौंग में पाया जाने वाला मैंगनीज एक मिनरल है, जो मस्तिष्क को ठीक से कार्य करने में मदद करता है. यह हड्डियों को मजबूत बनाता है. इसके कई और स्वास्थ्य लाभ भी हैं, तो आइए जानते हैं लौंग खाने के फायदे:

वजन घटाने में मददगार

आपको बता दें कि लौंग में कैलोरी कम और अधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता है. जो वजन बढ़ने से रोकता है. वहीं, फाइबर पाचन क्रिया को ठीक करता है. ये शरीर के मेटाबॉलिज्म को तेज करने में मदद करता है. जिसके चलते मेटाबॉलिज्म दर तेजी से वजन घटाने में मदद करती है.

डायबिटीज को कम करने में मददगार

दरअसल, लौंग में नाइजेरिसिन नामक का एक खास तत्व होता है, जो हमारी मांसपेशियों में इन्सुलिन रेजिस्टेंस को कम करता है. इसमें मौजूद तत्वों की मदद से ब्लड सूगर को कम करने में मदद मिलती है. जिससे डायबिटीज के लक्षणों में कमी आती है.

दांतों के लिए लौंग बेहद लाभदायक

आपको बता दें कि लौंग में एंटी माइक्रोबियल गुण होते हैं. ये बुरे बैक्टीरिया के विकास को रोकता हैं. हम दांतों में दर्द होने पर भी लौंग का प्रयोग करते हैं, जिससे दांतों के दर्द में आराम मिलता है. जब हम मुंह में दर्द वाली जगह पर कुछ मिनट के लिए लौंग रखते हैं. ये दर्द से राहत दिलाने का काम करता है. अगर इसका टूथपेस्ट इस्तमाल करें, तो ये दांतों की सड़न को खत्म करने में मदद करता है.

कैंसर रोकने में मददगार

लौंग में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जो कोशिकाओं को नष्ट होने से बचाने में मदद करते हैं. कोशिकाओं के नष्ट होने की दर जितनी घटती है, कैंसर होने का खतरा भी उतना ही कम होता रहता है. वही बात करें लौंग के तेल की तो इसमें कई प्रकार के ऐसे घटक पाए जाते हैं जिससे ब्रेस्ट कैंसर में कमी आती है.

लिवर से जुड़े रोग होने के खतरे होते हैं कम

लौंग का सेवन करने से लिवर मजबूत रहता है, जिसके चलते लिवर के रोग होने का खतरा कम हो जाता है. एक अध्ययन में पाया गया कि लौंग में मौजूद यूजेनॉल नामक तत्व लिवर सिरोसिस से होने वाले लक्षणों को कम करता है.

Spread the love
More from Health NewsMore posts in Health News »
%d bloggers like this: