Press "Enter" to skip to content

MP News – शासकीय कामों में लापरवाही बरतने पर पंचायत सचिव शिक्षक समेत 3 निलंबित, 3 की संविदा समाप्त, तहसीलदार – CEO को नोटिस

MP News: मध्य प्रदेश में शासकीय कामों में लापरवाही बरतने पर अधिकारी कर्मचारियों पर फिर कार्रवाई की गई है। शहडोल में पंचायत सचिव, सागर में शिक्षक और उपयंत्री को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। वही सतना कलेक्टर ने 3 तीन संविदा कर्मियों को दक्षता ठीक नहीं पाये जाने पर संविदा समाप्त करने के निर्देश दिए है। वही बाढ़ के कामों में लापरवाही करने पर तहसीलदार और सीएम हेल्पलाइन में निराकरण में देरी करने मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को शोकॉज नोटिस जारी किया गया है।
शहडोल मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत मेहताब सिंह ने सचिव आदित्य तिवारी ग्राम पंचायत सन्नौसी जनपद पंचायत जयसिंहनगर द्वारा रिश्वत लेते पकड़े जाने पर मध्यप्रदेश पंचायत सेवा (आचरण) नियम 1998 का उल्लघंन होकर म.प्र. पंचायत सेवा (अनुशासन एवं अपील) नियम 1999 के तहत सचिव आदित्य तिवारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है। निलंबन अवधि में मुख्यालय जनपद पंचायत जयसिंहनगर नियत किया गया है तथा नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता देय होगा।
सागर कमिश्नर मुकेश कुमार शुक्ला ने विकासखण्ड सागर के तत्कालीन जिला परियोजना समन्वयक हाल में रिछावर शासकीय हाईस्कूल के प्राचार्य यूबीएस गौर को पदीय कर्तव्यों के प्रति स्वेच्छाचारिता, अनुशासनहीनता, शासकीय कर्तव्य निर्वहन में लापरवाही, उदासीनता एवं कर्तव्यविमुखता के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। कमिश्नर श्री शुक्ला ने उक्त कार्यवाही मध्यप्रदेश सिविल सेवा आचरण नियम के तहत की है। निलंबन अवधि में गौर का मुख्यालय कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी, टीकमगढ़ नियत किया गया है। निलंबन अवधि में गौर को जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।
 सागर कमिश्नर मुकेश कुमार शुक्ला ने लोक स्वास्थ यांत्रिकी विभाग उपखंड क्रमांक एक के उपयंत्री एन आर श्रीवास्तव को पदीय कर्तव्यों के प्रति स्वेच्छाचारिता, अनुशासनहीनता, शासकीय कर्तव्य निर्वहन में लापरवाही, उदासीनता एवं कर्तव्यविमुखता के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। कमिश्नर श्री शुक्ला ने उक्त कार्यवाही मध्यप्रदेश सिविल सेवा आचरण नियम के तहत की है। निलंबन अवधि। में श्रीएन आर श्रीवास्तव का मुख्यालय कार्यालय कलेक्टर, जिला निवाड़ी नियत किया गया है। निलंबन अवंधि में श्री एन आर श्रीवास्तव को जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।
3 संविदाकर्मी बर्खास्त
सतना में संविदा कर्मचारियों के वार्षिक कार्य मूल्यांकन पर तत्कालीन मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सतना द्वारा तीन संविदा कर्मियों को 50 अंक में से 20 या इससे कम अंक दिये गये हैं। जिनमें अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी जनपद पंचायत सोहावल श्रीमती विभा सिंह, डाटा एण्ट्री ऑपरेटर जनपद पंचायत मझगवां कमलेश सुमन एवं सहायक मानचित्रकार अनिल कुमार शर्मा शामिल हैं। कलेक्टर अजय कटेसरिया ने तीनों कर्मचारियों का कार्य निम्न स्तर एवं अत्यंत खराब प्रदर्शन होने के कारण संविदा समाप्त करने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सतना को दिये गये हैं।
बाढ़ के कामों में लापरवाही बरतने पर तहसीलदार को
चंबल संभाग के कमिश्नर आशीष सक्सेना ने बाढ़ के कामों में लापरवाही बरतने पर संयुक्त आयुक्त विकास राजेन्द्र सिंह ने तहसीलदार वीरपुर को 15 दिवस का कारण बताओ नोटिस जारी किया है। नोटिस का जबाव संतोषजनक प्राप्त न होने पर आगामी दो वार्षिक वेतनवृद्धियां असंचयी प्रभाव से रोके जाने की लघुशासित अधिरोपित की जायेगी। आरोप है कि तहसीलदार वीरपुर वीरसिंह अवसिया ने मात्र 3 हजार 200 रूपये का प्रकरण 6-4 के तहत बनाया। जबकि अतिवृष्टि से उपयोग में आने वाले कपड़े, बर्तन की हानि हुई । प्रति परिवार को 5 हजार रूपये की आर्थिक सहायता दी गई। जिसमें मकान क्षति का कोई उल्लेख नहीं किया गया।
सीएम हेल्पलाईन में लापरवाही पर सीईओ को नोटिस
 जिला शहरी विकास अभिकरण पन्ना के परियोजना अधिकारी यशवंत शर्मा द्वारा जिले की नगरीय निकाय के मुख्य नगरपालिका अधिकारियों की सीएम हेल्पलाईन पर आमजनता से प्राप्त शिकायतों का समय पर निराकरण न करने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। इसमें अजयगढ़, अमानगंज, ककरहटी, गुनौर, पन्ना एवं पवई शामिल हैं। उन्होंने लेख किया है कि सीएम हेल्पलाईन पर लंबित शिकायतों से प्रतीत होता है कि आप के द्वारा जानबूझ कर वरिष्ठ कार्यालय के निर्देशों की अवहेलना की जा रही है। इस संबंध में पत्र प्राप्ति के दो दिवस के अन्दर अपना उत्तर समक्ष में प्रेषित करें अन्यथा आपके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही प्रस्तावित की जायेगी। जिसके लिये आप स्वयं जिम्मेदार होगें।
Spread the love
More from Madhya Pradesh NewsMore posts in Madhya Pradesh News »
%d bloggers like this: