Press "Enter" to skip to content

सेवा और हौसले को प्रणाम, श्री हरि परमार्थ संस्था न किया कोरोना काल के मानव सेवकों का सम्मान

इंदौर। जब कोरोना की दहशत से हर कोई डरा सहमा था। संक्रमण की मार से कहीं कराह निकल रही तो कहीं जान जा रही थी। कोहराम मचा हुआ था। अपने ही अपनों से किनारा कर रहे थे ऐसे में समाज से देवदूत बनकर आगे आए कुछ गैरों ने सेवा और हौसले के साथ कोरोना पीड़ितों की मदद को हाथ बढ़ाए। चेहरे अनजाने थे, लेकिन भाव अपनेपन का था। खाद्य सामग्री से लेकर हर तरह की मदद को तत्पर रहे। जो जहां था, उसी क्षेत्र में मोर्चा संभाल कोरोना से लड़ने में जुट गया। इनके इस प्रयास ने न केवल बीमारी को अपना कदम रोकने पर मजबूर किया बल्कि पीड़ितों को कोरोना के कहर से बचाया भी। ऐसे ही कोरोना काल के मानव सेवको को सम्मानित करने के लिए श्री हरि परमार्थ संस्था इंदौर ने महा मण्डलेश्वर श्री श्री गंगादास फलीहारी बाबा आश्रमं श्रीराम मंदिर पंचकुईया इंदौर में सम्मान समारोह आयोजित किया। आयोजन में कोरोना के समय सेवा देने वाले मानव सेवको का सम्मान किया गया। राजेश सावनेर ने बताया कि
कोरोना काल के मानव सेवको के सम्मान का सजा मंच और सामने बैठे कोरोना से जंग लड़ने वाले कोरोना सेवको । दूसरी ओर मुख्य अतिथि  महामण्डलेश्वर श्री श्री लक्ष्मण दास जी महाराज बालब्रहमचारी महन्त श्री श्री भरत दास जी महाराज
पंचमुखी हनुमान मंदिर पुजारी श्री अनिल जी गुरव के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न किया गया । अन्य अतिथियों में डॉक्टर, नर्स आफिसर ,रक्त दानदाता ,और अन्य सामाजिक संस्था गुरव समाज इंदौर के सदस्य उपस्थित रहे। जिनका सम्मान किया गया। अतिविशिष्ट अतिथि गुरव समाज पंचायत र्पाश्चम श्रेत्र कार्यकारणी द्वारा भारत माता पूजन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। इस अवसर प़रं कोरोना मे मारे गये समाज जन को श्रद्धाजली देकर वृक्षा रोपण उनकी स्मृति स्वरूप मंदिर परिसर मे किया गया।
हेमन्त मोराने ने बताया कि समारोह के शुभारंभ के लिए अतिथियों ने एक साथ मिलकर दीप प्रज्ज्वलन किया तो तालियों की गड़गड़हाट से सेवको के सम्मान का आगाज हुआ। इसके बाद शुरू हुआ मंच से एक-एक कर सम्मान देने का क्रम। शाम 4 बजे  बजे से 5 बजे तक तक चले इस आयोजन में पूरे इंदौर के अलावा बड़वानी हरदा खंडवा सनावद बडवाह खरगोन अंजड़ अन्य जगहों  से  लगभग 50 मानव सेवको को सम्मानित किया गया। सम्मान पाने बाद इनके चेहरे पर सुकून व खुशी का वह भाव दिखा। कार्यक्रम का संचालन  संस्था के संचालक राजेश सावनेर ने किया ।
Spread the love
%d bloggers like this: