Press "Enter" to skip to content

अग्निपथ हिंसा के बाद पूरे प्रदेश में अलर्ट

-भोपाल, इंदौर-उज्जैन सहित प्रदेशभर में तैनात भारी पुलिस बल

अग्निपथ की हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है, ग्वालियर के बाद इंदौर और महू में सेना भर्ती की तैयारी कर रहे छात्रों ने हंगामा कर दिया, जिसके चलते प्रदेशभर में अलर्ट जारी कर दिया है, सभी रेलवे स्टेशनों पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है, इंदौर के साथ ही उज्जैन, भोपाल, ग्वालियर आदि सभी जगह सेना के जवान और आसपास के थानों की पुलिस तैनात है। एडीजी लॉ एंड आर्डर ने वायरलेस पर मैसेज देते हुए अलर्ट किया है।
लगातार बढ़ती हिंसा को नियंत्रित करने के लिए पुलिस प्रशासन अलर्ट हो गया है, कोचिंग संचालकों व छात्रों से चर्चा कर उन्हें समझाया जा रहा है, इंदौर से महू जाने वाली ट्रेनों पर भी रोक लगा दी गई है। भिंड रेलवे स्टेशन पर कलेक्टर सतीश कुमार और पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चौहान, महिला डीएसपी पूनम थापा ने निरीक्षण किया, वहीं दूसरी और हाउसिंग कॉलोनी में स्थित कोचिंग सेंटरों पर कलेक्टर और एसपी ने ट्यूशन पढ़ने वाले छात्रों और शिक्षकों को समझाइश दी, भिंड शहर के राजीव गांधी स्टेडियम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलेश कुमार ,सीएसपी निसार रेडी और डीएसपी अरविंद द्वारा भर्ती की तैयारी करने वाले छात्रों को समझाइश दी।
केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में भड़क रही हिंसा की चिंगारी बिहार से लेकर मध्यप्रदेश पहुंच गई है, गुरुवार को ग्वालियर में उपद्रव के बाद शुक्रवार को युवाओं ने इंदौर में भी हंगामा किया, सुबह करीब 7 बजे रेलवे स्टेशन पहुंचे कुछ युवाओं द्वारा हंगामा कर पत्थर फेंके, ऐसे में पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। जानकारी के अनुसार अग्निपथ योजना का विरोध शुक्रवार सुबह करीब 7 बजे इंदौर में भी नजर आया, कुछ युवाओं द्वारा एकत्रित होकर रेलवे स्टेशन पर हंगामा किया, सुबह से ही सेना में भर्ती के लिए तैयारी कर रहे छात्र इक_ा होकर लक्ष्मीबाई नगर स्टेशन पर पहुंचे और जाम लगा दिया, यहां इन छात्रों ने सुबह पुना से इंदौर आने वाली ट्रेन को भी रोक दिया, मामला बढ़ते देख इंदौर से उज्जैन जाने वाली मेमू सहित दो ट्रेन को निरस्त किया गया है।

Spread the love
More from Madhya Pradesh NewsMore posts in Madhya Pradesh News »
%d bloggers like this: