Press "Enter" to skip to content

एशिया के पहले अखबारी कागज कारखाना नेपा मिल फिर शुरू हुई 

Nepanagar News Paper Mill – एशिया के पहले अखबारी कागज कारखाना नेपा मिल में मंगलवार से फिर कागज का उत्पादन शुरू हो रहा है। केंद्र सरकार से मिले करीब 469 करोड़ रुपये के रिवाइवल पैकेज से मिल का नवीनीकरण किया गया है।

मिल के शुभारंभ कार्यक्रम में केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री महेंद्रनाथ पांडेय, राज्यमंत्री किशन पाल गुर्जर और भाजपा के अन्य नेता शामिल हुए। इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने नेपा मिल के साथ ही पांच सौ करोड़ से ज्यादा के विकास कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन किया।

प्रदेश के मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा व सांसद ज्ञानेश्वर पाटिल भी मौजूद रहे। मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सके।

केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री डॉ. महेन्द्र नाथ पांडेय शाम 4 बजे नेपानगर पहुंचे। वह यहां एशिया की पहली कागज मिल नेपानगर के रिनोवेशन के लोकार्पण समारोह में शामिल होने के लिए आए थे।

हेलीपैड पर उनका स्वागत नेपा मिल के सीएमडी सौरभ देब, कलेक्टर प्रवीण सिंह, सांसद ज्ञानेश्वर पाटिल सहित अन्य नेताओं ने की। उनके साथ भारी उद्योग मंत्रालय सचिव अरुण गोयल भारत सरकार आदि थे। यहां से वह सीधे नेहरू स्टेडियम पर आयोजित समारोह में पहुंचे।

इसके बाद नेपा मिल पहुंचकर बटन दबाकर नवीन संयंत्रों का शुभारंभ किया। मिल का रिनोवेशन करीब 469 करोड़ की लागत से किया गया है।

मिल की उत्पादन क्षमता बढ़ी, 2 तरह का कागज बनेगा

75 साल का गौरवमयी इतिहास रखने वाली एशिया की पहली अखबारी कागज मिल नेपा लिमिटेड एक बार फिर कमर्शियल उत्पादन के लिए तैयार हो गई है। यहां दो प्रकार का कागज तैयार होगा।

पहला न्यूज प्रिंट जो 44-45 जीएसएम का होगा। यह वेस्टेज कागज से लुगदी बनाकर तैयार किया जाएगा तो वहीं दूसरा राइटिंग प्रिंटिंग पेपर होगा।

इसके लिए रॉ मटेरियल कोटेड किताबें, अच्छी क्वालिटी के पुराने ऑफिस पेपर और अन्य इंडियन रिसाइकिल पेपर का उपयोग होगा। इस राइटिंग प्रिंटिंग पेपर की क्वालिटी 60 से 80 जीएसएम की होगी।

पहले मिल की उत्पादन क्षमता 88 हजार टीपीए प्रतिवर्ष थी। जो अब 1 लाख टीपीए प्रति वर्ष से अधिक होगी। यहां आधुनिक मशीनें लगाई गई है।

मुख्यमंत्री का दौरा निरस्त

नेपा मिल के कार्यक्रम में मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी आने वाले थे, लेकिन विदिशा जिले के दौरे पर होने के कारण वह नेपानगर नहीं आए। नेपा मिल में पुनरूधार व मिल विकास योजना के तहत नवीनीकृत संयंत्रों का उद्घाटन केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय ने किया। नेपा मिल अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक कमोडोर सौरभ देब ने मिल का इतिहास बताया।

Nepa MillAsia’s first newsprint factory

Spread the love
More from Madhya Pradesh NewsMore posts in Madhya Pradesh News »
%d bloggers like this: