Press "Enter" to skip to content

Posts published in “Twitter War News”

राजू भदोरिया के जिलाबदर पर जल्द निर्णय नहीं हुआ तो उग्र प्रदर्शन करेगी कांग्रेस  

 24 total views

   दबाब और बदले की राजनीती बंद करे बीजेपी
राजू भदोरिया के जिलाबदर पर जल्द निर्णय नहीं हुआ तो उग्र प्रदर्शन करेगी कांग्रेस  
Indore News. 2 दिनों पहले इंदौर जिला कलेक्टर द्वारा विभिन्न थाना क्षेत्रों के 18 व्यक्तियों पर जिलाबदर की कार्यवाही की गई थी जिसमें कांग्रेस के क्षेत्र क्रमांक दो के युवा नेता और पार्षद का चुनाव लड़ चुके राजू भदोरिया का नाम भी है । कुछ दिनों पहले ही पूर्व मंत्री जीतू पटवारी पर एफ.आई.आर. दर्ज हुई जिससे कांग्रेस में पहले ही नाराजगी और आक्रोश है और अब राजू भदोरिया पर जिला बदर की कार्यवाही होने से कांग्रेसी एकजुट होकर सरकार को घेरने की तैयारी कर रहे है |
कांग्रेसी नेताओं का कहना है की राजू भदोरिया पर ज़िलाबदर की ग़लत कार्यवाही प्रशासन और भाजपा द्वारा की गई, जिसके विरोध में कांग्रेस के सभी नेता गण संभागायुक्त महोदय से मिले और राजू भदोरिया पर करी गई ज़िला बदर की कार्यवाही को रद्द करने का कहा और उनको बताया की राजनीतिक छोटे और कुछ झूठे मुक़दमे राजू पर लगे है पिछले २३ साल में 8 मुक़दमे है जो की सामान्य धारा में लगे है, जिसमें न्यायालय भी कोई ऐसी सजा नही देता है जो प्रशासन ने भाजपा के दबाव में आकार की है, राजू एक ऐसा नेता है जिसने भारी बारिश की बाढ़ में लोगों को गले गले तक पानी में जा कर बचाया और कोविड में कितने शव का अंतिम संस्कार खुद ने करा और भी हमेशा जनता की सेवा करता रहता है ऐसे नेता पर अगर ज़िला बदर की कार्यवाही रद्द नही होती है तो कांग्रेस आने वाले मंगलवार 28 तारीख को हज़ारों की संख्या में आम जनता, महिलाओं बच्चों के साथ, कमिश्नर कार्यालय का घेराव करेगी. संभागायुक्त से पहुंचे नेताओं में मुख्य रूप से शहर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल,पूर्व मंत्री जितु पटवारी, संजय शुक्ला, विशाल पटेल, अश्विनजोशी, राजेश चौकसे, चिंटू चौकसे, शेख़अलीम,सूरजीत सिंघ चड्डा, पिंटू जोशी, शैलेश गर्ग, टंटु शर्मा, अनवरदस्तक,आंसाफ अंसारी, रफ़ीक खान एवं अनेक पार्षद गण और पदाधिकारी उपस्थित थे.
बता दें की विधानसभा क्षेत्र क्रमांक दो में राजू भदौरिया का बड़ा जनाधार है और पिछले दिनों राजू भदोरिया द्वारा जनता के काम करवाने को लेकर उनका भाजपा नेता ओर रमेश मेंदोला के समर्थको से बोरिंग को लेकर विवाद हुआ था. भदोरिया द्वारा विवाद के बाद बंद बोरिंग चालू करवाया गया था.

एमपी में सीधी भर्ती से ही भरे जाएंगे डीएसपी के 138 पद, इंस्पेक्टर के प्रमोशन कर पदों को भरने से पीएससी का इंकार

विवाद: कांग्रेस ट्विटर अकाउंट हुआ लॉक, पार्टी बोली- जनता का संदेश है, हम लड़ेंगे, लड़ते रहेंगे