Press "Enter" to skip to content

Indore News – मेडिकल कॉलेज की मान्यता के लिए मरीजों के नाम पर भाड़े से भोपाल के ट्रांसपोर्ट नगर से बुजुर्गों को लाए

भास्कर इन्वेस्टिगेशन: एनएलसीटी मेडिकल कॉलेज का आज से एनएमसी कर रही है निरीक्षण 

Indore News: कनाड़िया क्षेत्र में एलएनसीटी मेडिकल कॉलेज एंड सेवाकुंज हॉस्पिटल की मान्यता के लिए भाड़े के मरीज लाने का मामला सामने आया है। दरअसल यहां 25 अगस्त से नेशनल मेडिकल काउंसिल (एनएमसी) द्वारा मान्यता के लिए निरीक्षण शुरू हो रहा है। नियमानुसार मान्यता के लिए 300 बेड का हॉस्पिटल और 75% बेड भरे होना चाहिए। मरीजों की पूर्ति के लिए भोपाल के ट्रांसपोर्ट नगर से 100 रु. रोज मजदूरी और खाना फ्री के नाम पर बुजुर्गों को यहां लाया गया इसका खुलासा खुद मरीजों के नाम पर आए बुजुर्गों ने किया। इसकी रिकॉर्डिंग भास्कर के पास मौजूद है। पहले यहां मॉडर्न मेडिकल कॉलेज संचालित होता था। अनियमितता के चलते तीन साल पहले बंद हो गया था। इसे भोपाल के एलएनसीटी ग्रुप ने खरीद कर नए सिरे से मान्यता के लिए आवेदन किया है।
कथित मरीजों की जुबानी, भाड़े से आने की कहानी- ट्रांसपोर्ट नगर की बिलकिस कौन सी बीमारी है तो बोलीं कोई नहीं है। सब आ रहे थे तो हम भी आ गए.. चार पैसा हमें भी मिल जाएंगे। उनके साथ आई जमुना बाई बताती हैं कि हम एक ही जगह से तीन बसों में भरकर आए हैं। सुनीता बताती है कि कोई अंजना मैडम लेकर आई हैं।
• ट्रांसपोर्ट नगर के ही सुरेंद्र से बीमारी पूछी . तो कहने लगे कि हम तो बस तीन-चार दिन के लिए आए हैं। ठेकेदार ने 100 रुपए रोज खाना और रहना फ्री दिया है। इन्हीं के साथ अर्जुन विश्वकर्मा ने भी यही बातें कही।
गोपनीयता पर एनएमसी ने साधी चुप्पी- चूंकि एनएमसी का निरीक्षण गोपनीय रहता फिर कॉलेज को कैसे पता चल गया, इसका जवाब एनएमसी के चेयरमैन सुरेश शर्मा से मांगा तो उन्होंने फोन काट दिया। वाट्सएप पर मैसेज देखने के बाद भी जवाब नहीं आया। पूरे मामले को लेकर आरटीआई एक्टिविस्ट आनंद राय ने चेयरमैन को शिकायत भी भेजी है। वहीं मामले को लेकर कॉलेज प्रबंधन से कई बार संपर्क किया, कोई जवाब देने को तैयार नहीं हुआ।
Spread the love
%d bloggers like this: