Press "Enter" to skip to content

प्रदेश में तीन दिन और सताएगी गर्मी, भोपाल, इंदौर, जबलपुर से ज्यादा तपेगा ग्वालियर

मध्यप्रदेश में पिछले एक सप्ताह से गर्मी के तेवर कभी नरम तो कभी गर्म हो रहे हैं। अगले 48 घंटे तक इसी तरह मौसम बना रहेगा। अब 18 मई के बाद ही लोगों को गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद है।
वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक वेद प्रकाश सिंह ने बताया कि 18 के बाद गर्मी के तेवर नरम पड़ेंगे। 18 मई से 22 मई तक बादल छाने से कहीं-कहीं बारिश होगी।
प्री-मानसून में पहली अच्छी बारिश के आसार 22 मई से तीन दिन तक बने रहेंगे। यह स्थिति 25 मई तक रह सकती है। इसके बाद एक बार फिर गर्मी बढ़ेगी।
रविवार को भी बादल कम रहने से गर्म हवाओं के कारण गर्मी बढ़ गई। भिंड अभी भी सबसे गर्म इलाका है। यहां पारा अब भी 48 डिग्री के पार चल रहा है।
अगले तीन दिन तक इंदौर, भोपाल और जबलपुर में हल्की राहत कह सकते हैं, लेकिन गर्मी बनी रहेगी। ग्वालियर, चंबल, सागर, रीवा और सतना में अभी गर्मी के तेवर ज्यादा कम होने की उम्मीद नहीं है।

22 मई से गरज-चमक वाली बारिश

वैज्ञानिक वेद प्रकाश ने बताया कि अभी एक सप्ताह बादलों का आना जाना रहेगा। 22 मई से प्रदेश के कुछ इलाकों में गरज-चमक के साथ अच्छी बारिश होने की संभावना है।
इसका सबसे ज्यादा असर भोपाल, नर्मदापुरम, उज्जैन और इंदौर के कुछ इलाकों में यह सक्रिय रहेगा। अभी पश्चिमी विक्षोभ ईरान-अफगानिस्तान क्षेत्र में मध्य क्षोभमंडल में ट्रफ के रूप में उत्तर में है।
वहीं, दक्षिणी कर्नाटक के ऊपर चक्रवातीय गतिविधियां सक्रिय हैं। इससे होकर तेलंगाना, विदर्भ और छत्तीसगढ़ तक उत्तर-दक्षिण ट्रफ फैला है।

दो दिन प्रदेश के 24 जिलों में लू का अलर्ट

मध्यप्रदेश के भोपाल, इंदौर, जबलपुर और उज्जैन में कहीं-कहीं लू से राहत मिल गई, लेकिन अब भी ग्वालियर-चंबल, बुंदेलखंड और बघेलखंड के इलाके अब भी भट्टी की तरह तप रहे हैं। मौसम विभाग ने ग्वालियर, राजगढ़, खंडवा, खरगोन, मंदसौर, नीमच, शाजापुर, अशोकनगर, गुना, शिवपुरी, दतिया, भिंड, मुरैना, श्योपुर कलां, रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली, छतरपुर, सागर, टीकमगढ़ पन्ना और निवाड़ी में कहीं-कहीं अगले दो दिन कहीं-कहीं और कहीं एक दिन लू चलने का अलर्ट जारी किया है।
Spread the love
%d bloggers like this: