Press "Enter" to skip to content

उमा भारती का शराबबंदी पर फिर बयान , अब ट्वीट कर नई शराब नीति पर कही यह बात

मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने आज एक बार शराबबंदी पर अपना पुराना राग अलापा। उन्होंने राज्य की शराब नीति पर सवाल उठाए।
साथ ही कहाकि इससे महिलाएं भौंचक्की हैं क्योंकि वे पार्टी से ऐसे निर्णय की अपेक्षा नहीं रखतीं।
उमा भारती ने अपने ट्वीट में कहाकि भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ विधायक अजय विश्नोई ने भी खुलेआम नई शराब नीति का विरोध किया है। शराब एवं नशा राजनीतिक नहीं, सामाजिक विषय हैं। ऐसे विषय पर फैसले लेते समय सामाजिक परामर्श बहुत जरूरी है।

पीएम मोदी का भी जिक्र

उमा ने इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जिक्र करते हुए कहा कि कृषि कानून के मामले में पीएम मोदी ने बड़प्पन दिखाया और किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए कानून वापस लिए।
ये उनके बड़प्पन एवं महानता की जीत थी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से उनकी मुलाकात के समय उन्होंने उनसे आग्रह किया कि क्रमिक शराबबंदी से पूर्ण निर्णय शराबबंदी की ओर बढ़ना चाहिए।

कहा-ऐसे तो शराब से सराबोर हो जाएंगे गली-मोहल्ले

शराब नीति के प्रावधानों का संदर्भ देते हुए उमा भारती ने कहाकि घर में 11 बोतल ले जाने की अनुमति एवं एक के बदले में एक मुफ्त बोतल दिए जाने की नीति से तो घर, गली, मोहल्ला, शराब से सराबोर हो जाएंगे।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने कहाकि वह इस विषय पर आवश्यक परामर्श करके कोई फैसला लेंगे। इसी क्रम में उन्होंने कहाकि इस नई शराब नीति से खासकर महिलाएं एवं लड़कियां भौंचक्के हैं। वह हमसे इस तरह की अपेक्षा नहीं रखते हैं।
Spread the love
More from Madhya Pradesh NewsMore posts in Madhya Pradesh News »
%d bloggers like this: