Press "Enter" to skip to content

करोड़ों का काढ़ा किसने पीया, त्रिकुट चूर्ण पर घिरे शिवराज

0

 12 total views

कोरोना काल में इम्युनिटी बूस्टर के रूप में शिवराज सरकार ने लोगों को काढ़ा पिलाया है। इस दौरान सरकार ने 30 करोड़ रुपये का त्रिकुट काढ़ा बांटा है। इसकी जानकारी विधानसभा में स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी ने दी है। उन्होंने सदन में बताया है कि कोरोना के इलाज पर सरकार ने 724 करोड़ रुपये खर्च किए हैं। वहीं, 30 करोड़ रुपये का त्रिकुट काढ़ा लोगों में बांटा है। सरकार के इस दावे पर कांग्रेस ने सवाल उठाया है।

कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने इसे घोटाला बताया है। उन्होंने कहा कि सरकार इस आपदा को अवसर के रूप में इस्तेमाल किया है। सरकार के हिसाब पर जीतू पटवारी ने विधानसभा परिसर में त्रिकूट चूर्ण दिखाते हुए लोगों से पूछा है कि आप लोगों में से इसे कितनों ने पीया है। आपके परिवार के लोगों को यह त्रिकूट चूर्ण मिला है। जीतू पटवारी ने कहा कि सरकार ने लोगों को 30 करोड़ 64 लाख रुपये का काढ़ा पिलाया है।

जीतू पटवारी ने कोरोना मरीजों के इलाज पर हुए खर्च को लेकर भी सवाल उठाया है। सरकार ने कहा है कि हमने मरीजों के इलाज पर 724 करोड़ रुपये खर्च किए हैं। इनमें से 173 करोड़ रुपये प्राइवेट अस्पतालों को दिए हैं। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि कोरोना काल में मरीजों से लूट जगजाहिर है। उसके बाद भी 173.38 करोड़ रुपये एमपी के खजाने से 8 निजी अस्पतालों को लुटाए गए हैं। खरीद-फरोख्त से बनी शिवराज सरकार में लगे पैसों की वसूली जारी है।
8 करोड़ से हुई काढ़े की पैकिंग
सरकार की तरफ से जो आंकड़े विधानसभा में प्रस्तुत किए गए हैं, उसके अनुसार काढ़े की पैकिंग पर 8 करोड़ रुपये की राशि खर्च हुई है। कांग्रेस के आरोपों पर सरकार की तरफ से कहा गया है कि कहीं कोई गड़बड़ी नहीं हुई है। कोरोना इलाज में खर्च हुई राशि को लेकर कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी, जीतू पटवारी, मनोज चावला और हर्ष गहलोत ने सवाल पूछे थे।
कांग्रेस के आरोपों पर मंत्री का जवाब

जीतू पटवारी के आरोपों पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि कोरोना की शुरुआत में कांग्रेस की सरकार थी। कांग्रेस की सरकार आईफा अवॉर्ड की तैयारी में लगी थी और कमलनाथ जी जैकलीन और सलमान खान के साथ फोटो शूट करवा रहे थे। हमने जनता की जान बचाने के लिए खर्चा किया है। हम स्वीकार कर रहे हैं कि हमने खर्चा किया है। हमें जनता की जान बचाने के लिए और भी खर्चा करना पड़ेगा तो हम करेंगे। हमने 200 करोड़ रुपये का हवाई जहाज नहीं खर्च किया है।उन्होंने कहा कि हमने करोड़ों रुपये सीएम हाउस पर खर्च नहीं किए हैं। हमने जनता की जान बचाने के लिए काढ़ा बांटा है। हमने कमलनाथ की तरह से मुंबई से फिल्म कलाकारों को बुलाकर शराब परोसने का काम नहीं किया है। जीतू पटवारी के आरोपों पर मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि वह दिव्य ज्ञानी हैं। पूरे प्रदेश में जाकर देखें कि काढ़ा बंटा है कि नहीं। हम पूरे दावे के साथ कह रहे हैं कि हमने काढ़ा पर खर्च किया है।

आगे पढ़े

Spread the love

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.