Press "Enter" to skip to content

इंदौर क्राइम ब्रांच की कार्रवाई : होलसेल सामान के नाम पर 14 लाख से अधिक की ठगी, दो गिरफ्तार

इंदौर। घरेलू सामान की होलसेल डिलीवरी करने का झांसा देकर लाखों रुपये की ठगी करने वाले दो बदमाशों को इंदौर क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। आरोपितों के खिलाफ कनाड़िया थाने में धोखाधड़ी का केस भी दर्ज हुआ है।

टीआइ जेपी जमरे के मुताबिक फरियादी नीरज जायसवाल निवासी नंदन नगर की शिकायत पर आरोपित अमित शर्मा (अरण्य नगर) और नितिन लोधवाल (विजय नगर) के खिलाफ 14 लाख 36 हजार रुपये की धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया था। शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि आरोपितों ने शर्मा इंटरप्राइजेस के नाम से होलसेल कारोबार शुरू किया था। आरोपितों से संपर्क होने के बाद फिनाइल, साबुन व अन्य कॉस्मेटिक सामान के लिए संपर्क किया। सौदे के अनुसार आरोपितों के खातों में 14 लाख 36 हजार रुपये ट्रांसफर भी कर दिए लेकिन सामान नहीं पहुंचा और आरोपित फरार हो गए। मामले में क्राइम ब्रांच को भी शिकायत की गई। सोमवार को क्राइम ब्रांच ने दोनों को गिरफ्तार कर कनाड़िया थाने के सुपुर्द कर दिया।

व्यापारियों से लाखों रुपये लेकर भागे ठगोरों की तलाश

जूनी इंदौर पुलिस भी ठग लक्ष्मण उर्फ लक्ष्मीलाल कुमावत, उसकी पत्नी गेहारी, कर्मचारी श्रवणसिंह चौहान, मुकेश कुमावत की तलाश कर रही है। आरोपितों पर हर्ष खंडेलवाल की शिकायत पर धोखाधड़ी का केस दर्ज हुआ था। हर्ष ने पुलिस को बताया कि कुमावत ने धामनोद में शापिंग माल खोला और इंदौर के करीब 15 व्यापारियों से कपड़े, कॉस्मेटिक, किराना, जूते, चप्पल, ड्रायफ्रूट आदि खरीद लिए। आरोपितों ने 15 दिन में रुपये लौटाने का झांसा दिया और करोड़ों रुपये बटोर कर रातोंरात फरार हो गया। व्यापारियों ने उसके खिलाफ जूनी इंदौर थाने में केस दर्ज करवाया। पुलिस जांच में खुलासा हुआ कि ठग जिन खातों से लेनदेन करता था उसमें भी जीरो बैलेंस है। उसके सारे मोबाइल नंबर भी बंद आ रहे हैं। कुमावत पहले भी इसी तरह ठगी कर चुका है।

Spread the love
More from Crime NewsMore posts in Crime News »
%d bloggers like this: