Press "Enter" to skip to content

राहुल के बाद खड़गे की स्पीच के अंश रिकॉर्ड से हटाए गए, राज्यसभा में मोदी को बताया था मौनी बाबा

 मुझे नहीं लगता कि मेरे भाषण में किसी के खिलाफ असंसदीय या आरोप लगाने वाली कोई बात थी- खरगे
National News. कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ को इस बारे में चिट्ठी लिखी और पूछा कि पार्टी नेता राहुल गांधी के खिलाफ इसी तरह की कार्रवाई के एक दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उनके भाषण के कुछ हिस्सों को संसदीय रिकॉर्ड से क्यों हटाया गया।
मल्लिकार्जुन खरगे का कहना है  मुझे नहीं लगता कि मेरे भाषण में किसी के खिलाफ असंसदीय या आरोप लगाने वाली कोई बात थी, लेकिन कुछ शब्दों का गलत मतलब निकाला गया। अगर आपको कोई शंका थी तो आप अलग तरीके से पूछ सकते थे, लेकिन आपने मेरी बात को हटाने के लिए कहा।। इससे पहले राहुल गांधी ने तमाम आरोप लगाते हुए पूछा था कि प्रधानमंत्री और अडानी के बीच क्या संबंध है? तब लोकसभा स्पीकर ने राहुल के भाषण ऐसे अंश को भी हटा दिया था।
इससे पहले अडाणी मसले पर संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) जांच की मांग पर अड़े विपक्ष और सत्ता पक्ष के बीच राज्यसभा में बुधवार को कई बार तीखी नोकझोंक हुई तो कई बार हल्के-फुल्के क्षण भी नजर आए। राष्ट्रपति के अभिभाषण पद्र चर्चा के दौरान खरगे और सभापति धनखड़ के बीच लंबी नोकझोंक हुई। खड़गे ने कहा, मैं पीएम से पूछना चाहता हूं कि आप इतने शांत क्यों हैं।
आप हर दूसरे व्यक्ति को डराते हैं, आप उद्योगपतियों को क्यों नहीं डरा रहे हैं? नफरत फैलाने वाले लोग, अगर पीएम ने उन पर नजर उठाई तो वे यह सोचकर बैठ जाएंगे कि मुझे इस बार टिकट नहीं मिलेगा। लेकिन आज उन्होंने चुप रहना चुना है। वह मौनी बाबा बन गए हैं।
Spread the love
More from National NewsMore posts in National News »