Press "Enter" to skip to content

उत्तराखंड त्रासदी: ग्लेशियर टूटने से भारी तबाही, अब तक 14 लोगों की मौत, 170 से ज्‍यादा लापता

 

उत्तराखंड त्रासदी: ग्लेशियर टूटने से भारी तबाही, अब तक 14 लोगों की मौत, 170 से ज्‍यादा लापता

देहरादून। उत्तराखंड के चमोली जिले के रैणी गांव में रविवार को ग्लेशियर टूटने की आपदा के बाद हुई तबाही के मलबे में फंसे लोगों को ढूंढने का काम जारी है। बचाव दल ने अबतक अलग-अलग जगहों से 14 लोगों के शव बरामद किए हैं। 15 लोगों की जिंदगी बचा ली गई है। तपोवन की टनल में आज सुबह बचाव दल ने जेसीबी उतार कर और बचाव कार्य तेज कर दिए हैं।

एसडीआरएफ के सेनानायक नवनीत भुल्लर के अनुसार आज सुबह तपोवन की टनल में फंसे लोगों को बचाने के लिए बचाव कार्य तेज कर दिया गया। टनल में जेसीबी मशीन उतार दी गई है, जो टनल के अंदर ब्लॉक हुए रास्ते को खोलने का काम कर रही है। उन्होंने बताया कि टनल के अंदर बहुत मलबा है। रेस्क्यू दस्ते के लोग मुस्तैदी से बचाव कार्य में जुटे हुए हैं। वहां तकरीबन 50 लोग फंसे हुए हैं।

 

 

Spread the love
More from InterviewsMore posts in Interviews »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: