Press "Enter" to skip to content

अगर कोरोना संबंधी कोई शिकायत है तो इन मंत्रियों से संपर्क करें, शिवराज ने बांटी जिम्मेदारी

0

 160 total views

मध्य प्रदेश (MP) में कोरोना के बिगड़ चुके हालात के बीच अब सरकार इस महामारी से निपटने के लिए आर-पार की लड़ाई के लिए तैयार है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने कैबिनेट सहयोगियों के साथ वर्चुअल बैठक में कोरोना से निपटने के इंतजामों पर चर्चा की. कोरोना संक्रमण रोकने और मरीजों के इलाज के लिए मंत्रियों को राज्य स्तर पर अलग अलग काम सौंप दिये गए हैं. इसी के साथ किल कोरोना (Kill Corona) अभियान 2 और रोग से निरोग अभियान भी शुरू किया जाएगा. कैबिनेट की वर्चुअल बैठक में और भी कई फैसले लिए गए. बैठक में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए राज्य स्तर पर मंत्रियों को काम सौंपे गए हैं ताकि कोरोना पर काबू पाया जा सके और मरीजों को समय पर सही इलाज मिल सके.

मंत्रियों की ये रहेगी ज़िम्मेदारी
गोपाल भार्गव – प्रदेश में कोविड केयर सेंटर और ऑक्सीजन प्लांट निर्माण समय सीमा में पूरा करवाने की जिम्मेदारी

तुलसीराम सिलावट – इंदौर में राधा स्वामी सत्संग व्यास परिसर में बन रहे 2000 बिस्तर के अस्पताल का प्रभावी संचालन और इसी प्रकार के अन्य कोविड-केयर सेंटर का निर्माण देखेंगे
विजय शाह – प्रदेश में होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों को मेडिकल किट ब्रोशर का वितरण. ऐसे मरीज़ों को डॉक्टर फोन पर दिन में दो बार फोन चिकित्सा सलाह देने की मॉनिटरिंग करेंगे. उनके साथ इस काम में स्वास्थ्य और नगरीय प्रशासन की टीम भी रहेगी. इसका समन्वय प्रभु राम चौधरी, भूपेंद्र सिंह और ओपीएस भदौरिया करेंगे.
भूपेंद्र सिंह – बीना रिफाइनरी के पास बन रहे 1000 बिस्तर वाले अस्पताल के निर्माण कार्य पर नज़र रखेंगे.
बृजेंद्र प्रताप सिंह – प्रदेश में कोविड केयर सेंटर्स में रह रहे मरीजों को मेडिकल किट ब्रोशर का वितरण. चिकित्सा सलाह, योग प्राणायाम भोजन आदि की सुविधाएं सुनिश्चित करेंगे.

डॉ महेंद्र सिंह सिसोदिया – प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड संक्रमण फैलाव रोकने के लिए आवश्यक उपाय, गांव में होम आइसोलेशन और कोविड-19 सेंटर में मरीजों को मेडिकल किट, ब्रोशर का वितरण. इस काम में उन्हें मंत्री रामखेलावन पटेल सहयोग देंगे.
विश्वास सारंग – भोपाल में विभिन्न संस्थाओं के सहयोग से कोविड केयर सेंटर का निर्माण और भोपाल के अस्पतालों में बिस्तर बढ़वाने की जिम्मेदारी
उषा ठाकुर – जन अभियान परिषद के सहयोग से कोरोना वालंटियर अभियान का और वॉलिंटियर्स से कोरोना काम करवाना
अरविंद भदौरिया – प्रदेश में राज्य के बाहर से ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति के लिए समन्वय
राम किशोर कांवरे – राज्य के एक करोड़ परिवारों को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए काढ़े के निशुल्क वितरण की व्यवस्था और योग से निरोग अभियान की जिम्मेदारी.
राजवर्धन सिंह दत्तीगांव – उद्योगों से ऑक्सीजन सप्लाई का को-ऑर्डिनेशन
ओपीएस भदौरिया – नगरों में कोविड संक्रमण रोकने के उपाय, नगरों का सेनेटाइजेशन, नगरों में होम आइसोलेशन की व्यवस्था और मेडिकल किट का वितरण देखेंगे.

कोरोना किल और योग से निरोग
कैबिनेट में मंत्रियों के साथ चर्चा के बाद सरकार ने लिए कुछ और भी अहम फैसले लिए. सरकार किल कोरोना अभियान 2 शुरू करेगी. गांव जहां पॉजिटिव केस आए हैं, वहां जाकर किल कोरोना अभियान 2 पर तेजी से अमल शुरू होगा.

योग से निरोग कार्यक्रम चलाया जाएगा. शहरों में प्राइवेट डॉक्टरों की टीम बनाई जाएगी जो फोन पर आइसोलेशन में रह रहे मरीजो की मदद करेगी. रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वालों पर रासुका लगेगी. स्वास्थ्य विभाग गाइडलाइन तय करे कि किसे रेमडेसिवीर इंजेक्शन लगना है. अभी ऐसी जानकारी में आया है कि हर किसी को  रेमडेसिवीर  इंजेक्शन लिखा जा रहा है. वैक्सिनेशन के लिए टीम बढ़ाई जाएंगी ताकि जल्दी ही सबको टीका लग सके. सरकार ने डॉक्टरों और मेडिकल टीम का उत्साहवर्धन करने का फैसला लिया है. इसी के साथ कोरोना सहायता केंद्र खोले जाएंगे. कुंभ से आए लोग और प्रवासी मजदूरों की जांच की जाए और उन्हें आइसोलेशन में रखें.

आगे पढ़े

Spread the love
More from मध्यप्रदेशMore posts in मध्यप्रदेश »