Press "Enter" to skip to content

Indore News – इंदौर के 35 हजार युवाओं को ‘स्व-रोजगार’ के लिये मिलेंगे 206 करोड़

स्वामी विवेकानंद जयंती ‘युवा दिवस’ पर 12 जनवरी को सौंपे जायेंगे स्वीकृति तथा वितरण पत्र
Indore News. राज्य शासन द्वारा दिये गये दिशा निर्देशानुसार स्वामी विवेकानंद की जयंती युवा दिवस पर इन्दौर के लगभग 35 हजार युवाओं को स्वरोजगार के लिये 206 करोड़ रूपये से अधिक की राशि प्राप्त होगी। इसके लिये उन्हें शासन की विभिन्न रोजगारमूलक योजनाओं के अंतर्गत स्वीकृति तथा वितरण पत्र सौंपे जायेंगे। मुख्य कार्यक्रम 12 जनवरी को युवा दिवस पर दोपहर एक बजे स्थानीय जाल सभागृह में आयोजित होगा। इस कार्यक्रम में कोविड प्रोटोकॉल को देखते हुये 100 से अधिक युवाओं को स्वीकृति तथा वितरण पत्र दिये जायेंगे। शेष युवाओं को बैंकों के माध्यम से उसी दिन स्वीकृति तथा वितरण पत्र प्राप्त होंगे।
कलेक्टर मनीष सिंह ने सभी संबंधित विभागों और बैकों के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे प्रत्येक हितग्राही से संपर्क करें। उन्हें 12 जनवरी को ही बैंक शाखाओं में बुलाकर स्वीकृति तथा वितरण पत्र सौंपे। इस कार्य को विशेष प्राथमिकता दी जाये। उन्होंने बताया कि रोजगार दिवस पर इन्दौर जिले में 34 हजार 937 युवाओं को 206 करोड़ से अधिक राशि की स्वीकृति तथा वितरण पत्र सौंपे जायेंगे। कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि जिले में उक्त युवाओं को प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, मुख्यमंत्री ग्रामीण पथकर विक्रेता योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम आदि के तहत लाभांवित किया जा रहा है।
रोजगार दिवस पर कार्यक्रम के आयोजन के संबंध में कलेक्टर कार्यालय में आज कलेक्टर मनीष सिंह द्वारा संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक ली गई। बैठक में उन्होंने कार्यक्रम की सभी आवश्यक व्यवस्थाओं के लिये अधिकारियों को दिशा निर्देश दिये है। उन्होंने कहा है कि कार्यक्रम में कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाये। रोजगार मेला का मुख्य कार्यक्रम भोपाल के कुशाभाऊ ठाकरे हाल (मिंटो हाल) में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मुख्य आतिथ्य में होगा। इस समारोह का इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर सीधा प्रसारण भी होगा। उन्होंने कहा कि कोविड के बढ़ते मामलों और राज्य तथा केंद्र सरकार की कोविड गाइडलाइन के दृष्टिगत सभी प्रोटोकाल का पालन किया जाए। मुख्य समारोह के सीधे प्रसारण के दृष्टिगत भी कार्यक्रम में सुसंगत व्यवस्था की जाए। स्व-रोजगार की अपार संभावनाओं के दृष्टिगत विभिन्न विभागों एवं बैंको के माध्यम से कई स्व-रोजगार योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, स्टैंडअप इंडिया योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन आदि प्रमुख योजनाएँ संचालित की जा रही है। शासन की मंशानुरूप स्व-रोजगार, रोजगार से जुड़ी सभी योजनाओं में शत-प्रतिशत स्वीकृति, मेला आयोजन से पूर्व सुनिश्चित की जाए।
Spread the love
More from Indore NewsMore posts in Indore News »
%d bloggers like this: