Press "Enter" to skip to content

Indore News – इंदौर में अगले पांच दिन और पड़ेगी कड़ाके की ठंड

 न्यूनतम तापमान में गिरावट के साथ बारिश की भी संभावना

वर्तमान में जम्मू के ऊपर पश्चिमी विक्षोभ (पाकिस्तान से आने वाली हवाएं) एक चक्रवातीय गतिविधियों के रूप में ट्रफ बनी हुई है। इसके कारण हरियाणा के ऊपर चक्रवातीय गतिविधियां अभी भी सक्रिय हैं। इसके चलते मध्यप्रदेश में अगले 4 से 5 दिनों तक ठंड का कहर जारी रहेगा। मौसम विभाग की मानें तो अगले 24 घंटों में पारा और गिरेगा।शनिवार-रविवार को हुई बारिश और ओलावृष्टि के चलते मध्यप्रदेश में ठंड ने फिर जोर पकड़ लिया है। इंदौर में मंगलवार को दिन का अधिकतम तापमान 21 और न्यूनतम तापमान 5 डिग्री से कुछ अधिक दर्ज किया गया। बुधवार को तापमान में और गिरावट की संभावना जताई गई है।

भोपाल से ज्यादा ठंडा इंदौर

सोमवार को सीजन में पहली बार इंदौर में रात का पारा भोपाल से नीचे आ गया। भोपाल में न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। इंदौर में यह 8 डिग्री पर दर्ज हुआ। प्रदेश के कई इलाकों में सुबह हल्की बूंदाबांदी और धुंध रही। अगले कुछ घंटे में रीवा, सीधी, सिंगरौली, शहडोल, अनूपपुर, अमरकंटक, डिंडोरी, सिवनी, बालाघाट और मंडला में गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है।

मौसम विज्ञानी (सीनियर फैलो) रणजीत वानखे़ड़े ने बताया कि अभी पांच-छह दिनों तक ऐसा ही मौसम रहेगा। हवा की दिशा अभी नार्थ-ईस्ट की बनी हुई है। इसके साथ ही सर्द हवाओं का जोर रहेगा। अभी हवा की गति 0.14 किमी की बनी हुई है। अभी जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखण्ड व हिमालयीन क्षेत्र में हिमपात के कारण इसका असर मप्र के कई जिलों में हुआ है जिसके कारण सर्दी एकदम बढ़ी है।

यह सिस्टम बना है

वर्तमान में जम्मू के ऊपर पश्चिमी विक्षोभ (पाकिस्तान से आने वाली हवाएं) एक चक्रवातीय गतिविधियों के रूप में ट्रफ बनी हुई है। इसके कारण हरियाणा के ऊपर चक्रवातीय गतिविधियां अभी भी सक्रिय हैं। इससे होकर एक अन्य ट्रफ लाइन दक्षिण-पूर्वी मध्यप्रदेश तक गुजर रही हैं। दक्षिण-पश्चिमी बंगाल की खाड़ी और कोंकण में एक ट्रफ के साथ अन्य चक्रवातीय गतिविधियां भी सक्रिय हैं। इसी कारण बुंदेलखंड और बघेलखंड के हिस्सों में अभी भी बारिश की हो रही है।

बादल हटते ही यहां ठंड का जोर

बादलों के हटते ही भोपाल, धार, गुना, ग्वालियर, इंदौर, खरगोन, रायसेन, राजगढ़, रतलाम, शाजापुर, उज्जैन, सागर और सिवनी में ठंड ने ज्यादा जोर पकड़ा है। यहां रात का पारा 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे आ गया।

यहां रातें ज्यादा ठंडी नहीं

प्रदेश में बंगाल की खाड़ी से नमी आने के कारण बुंदेलखंड, बघेलखंड और महाकोशल में बादल और हल्की बारिश हो रही है। इस कारण यहां रात के पारे में ज्यादा गिरावट नहीं आई है। छिंदवाड़ा, दमोह, जबलपुर, खजुराहो, मंडला, नरसिंहपुर, रीवा, सतना, सीधी, टीकमगढ़, उमरिया, बैतूल, होशंगाबाद और पचमढ़ी में पारा 11 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा रिकॉर्ड हुआ।

Spread the love
More from Indore NewsMore posts in Indore News »
%d bloggers like this: