Press "Enter" to skip to content

Indore News – शहर के यातायात जवानों को क्यू आर कोड के जरिये सिटीजन कॉप में जोड़ा जाएगा

ऑटो रिक्शा पर होगा चार डिजिट का कोड 
 
Indore News. इंदौर शहर में यातायात को सुगम बनाने के साथ ही ऑटो रिक्शा चालकों को चार डिजिट का ऐसा कोड जारी किया जा रहा है जो न सिर्फ ऑटो चालकों, यात्रियों और पुलिस चेकिंग के दौरान भी सुलभ रहेगा। बता दें कि इंदौर के कमिश्नर ऑफ पुलिस की मौजूदगी में नवाचार के लिए विशेष प्रयोग किये जा रहे है। मंगलवार को आयोजित हमारा लक्ष्य कार्यक्रम के दौरान शहर के ऑटो चालकों को एपीसी नम्बर प्रदान किया गया।

दरअसल, इंदौर में यातायात को सुगम, सुरक्षित एवं सुखद बनाने के लिए अब सिटीजन कॉप में दो नए फीचर्स जोड़ने के साथ ही ऑटो के एपीसी नम्बर भी दिए गए। इंदौर कमिश्नर ऑफ पुलिस हरिनारायणचारि मिश्रा के मुताबिक अब नई व्यवस्था के तहत शहर के यातायात जवानों को क्यू आर कोड के जरिये सिटीजन कॉप में जोड़ा जाएगा। जिसके तहत हर जवान और कहा और किस स्थान पर ड्यूटी दे रहा है इस बात का पता आसानी से तकनीक के जरिये लगाया जा सकेगा और जरूरत पड़ने पर उन्हें नजदीकी क्षेत्रों में तुरंत जरूरत के हिसाब से भेजा जा सकेगा। इसके अलावा यातायात विभाग में पदस्थ जवान अपनी उपस्थिति भी तकनीकी के माध्यम से दर्ज करा सकेंगे। वहीं उन्होंने बताया कि सिटीजन कॉप में एक और फीचर यातायात प्रबंधन मित्र फीचर जोड़ा जाएगा जो उन लोगो के लाभदायक होगा। यातयात प्रबंधन में अपना योगदान देना चाहते है लेकिन उन्हें इस बात की उचित जानकारी नही मिल पाती थी कि कहा सम्पर्क किया जाए। लिहाजा, नए फीचर के जरिये वो सिटीजन कॉप में अपनी पूरी जानकारी देकर अपने चुने हुए नियत स्थान पर सेवा दे सकेंगे। वही उत्कृष्ट कार्य करने वालों को पुलिस विभिन्न मंचो पर सम्मानित भी करेगी।

ऐसा होगा ऑटो एपीसी यूनिक नम्बर सिस्टम


आज से शहर के तमाम वैद्य रिक्शा चालकों को चार डिजिट के एपीसी यूनिक नम्बर बांटे गए है। ये नम्बर स्वयं पुलिस के आला अधिकारियों ने ऑटो पर चस्पा किये है। एपीसी यूनिक नम्बर की सहायता से ऑटो रिक्शा चालकों को ये फायदा होगा उनका वेरिफिकेशन हो जाने से उन पर अलग – अलग चौराहों पर रुकने का दबाव कम हो जाएगा और पेपर चेकिंग से भी वो बहुत हद तक निजात पा सकेंगे। जिससे ऑटो चालकों और उसमें सफर कर रहे यात्रियों का समय बचेगा। इधर, पुलिस भी यूनिक फोर डिजिट नम्बर वाले ऑटो को सड़क पर रियायत देगी।जानकारी के मुताबिक इसमें शर्त ये भी होगी ऑटो चालक को यूनिक नम्बर मिलने के बाद भी यातायात के सभी नियमों का पालन करना होगा। कमिश्नर ऑफ पुलिस इंदौर के मुताबिक एपीसी यूनिक नम्बर के जरिये सफर करने वाले लोगो को ये सुविधा होगी कि वो आसानी से ऑटो नम्बर याद रख पाएंगे। वही यूनिक नम्बर के जरिये ऑटो चालक की पूरी जानकारी तुरंत मिल जाएगी।

Spread the love
More from Indore NewsMore posts in Indore News »
%d bloggers like this: