Press "Enter" to skip to content

लिफ्ट की डक्ट में गिरने से मासूम की मौत, दो घंटे बाद मिला शव

इंदौर की यह खबर सबको खासकर मासूम बच्चों के माता-पिताओं को अलर्ट करने वाली है, जहां खेलते-खेलते 3 साल के मासूम की जान चली गई। मां छोटे बेटे को सुलाने में लगी थी, इसी दौरान 3 साल का बड़ा बेटा वहां से उठकर खेलने चल गया।

मासूम खेलते-खेलते लिफ्ट के लिए खोदी गई डक्ट में गिर गया, जहां पानी भरा हुआ था। सिर में चोट लगने और डूबने से उसकी मौत हो गई। दो घंटे बाद लिफ्ट के बनाई डक्ट में उसका शव मिला। परिजन उसे अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

घटना सोमवार शाम मनभावन नगर की है। पलासिया पुलिस के मुताबिक मनभावन नगर में 3 मंजिला बिल्डिंग का निर्माण कार्य चल रहा है। यहां मुन्ना निगवाल और उसकी पत्नी चौकीदारी करते हैं।

सोमवार शाम करीब 4 बजे कुछ देर के लिए मजदूर चाय पीने गए थे। मुन्ना भी उनके साथ चला गया था। घर पर उसकी पत्नी, बड़ा बेटा राजवीर (3) और छोटा बेटा (1) था। मां छोटे बेटे को सुला रही थी।

बड़ा बेटा भी पास में ही था। अचानक वह खेलने चला गया। मां ने पलटकर देखा तो बेटा वहां नहीं था। उसने बेटे को आवाज लगाई पर उसने जवाब नहीं दिया।

मां ने उसे यहां-वहां ढूंढा, लेकिन वो नहीं मिला। मासूम राजवीर के पिता और उनके परिचित राजवीर को ढूंढते हुए दो किमी दूर तक चले गए। खजराना चौराहे पर भी काफी ढूंढा। रास्ते में आते-जाते कई लोगों को मोबाइल पर फोटो दिखाकर पूछते रहे।

पर बच्चे का कोई पता नहीं चला। दो-तीन घंटे तक ढूंढने के बाद भी जब नहीं मिला तो सभी लिफ्ट की डक्ट के यहां आकर बैठ गए। तभी एक परिचित की नजर नीचे गई। तो वहां राजवीर का शव दिखाई दिया। आसपास काम करने वाले मजदूरों को नीचे उतारा और वहां से बच्चे को लेकर अस्पताल पहुंचे।

सोमवार को ही खोली थी डक्ट

निर्माणाधीन तीन मंजिला भवन में लिफ्ट लगना थी। इसलिए 7 से 8 फीट गहरा गड्‌ढा खोदा गया था। इसमें उपकरण लगाने के लिए सोमवार को ही इसका कवर खोला गया था।

यहां लिफ्ट लगाने वाली टीम भी पहुंची थी। जो लिफ्ट लगाने के लिए उपकरण लेकर आई थी। उनके जाने के कुछ देर बाद ही यह घटना हो गई।

 

Spread the love
More from Crime NewsMore posts in Crime News »
%d bloggers like this: