Press "Enter" to skip to content

नफरत की राजनीति के कारण अपने पिता को खोया, देश को नहीं खोऊंगा : राहुल गांधी

डॉ. देवेंद्र मालवीय 
श्रीपेरंबदूर। भारत जोड़ो यात्रा शुरू करने से पहले तमिलनाडु के श्रीपेरंबदूर में अपने पिता के स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि उन्होंने नफरत की राजनीति के कारण अपने पिता को खो दिया, लेकिन देश को नहीं खोने देंगे।
उन्होंने ट्वीट किया, मैंने अपने पिता को नफरत और बंटवारे की राजनीति में खो दिया। मैं अपना प्यारा देश भी इसमें नहीं खोऊंगा। प्यार नफरत पर जीत हासिल करेगा। उम्मीद डर को हरा देगी।
हम सब मिलकर जीतने वाले हैं। राहुल गांधी ने अपने पिता, पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की, जिनकी 21 मई, 1991 को श्रीपेरंबदूर में हत्या कर दी गई थी।
पार्टी प्रवक्ता शमा मोहम्मद ने कहा, महत्व यह है कि गांधी, विवेकानंद और थिरिवल्वुर सहिष्णुता के लिए खड़े थे और यह स्थान देश का सबसे दक्षिणी छोर है।”
उन्होंने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि वे इस यात्रा को लेकर चिंतित हैं क्योंकि उन्होंने वोल्वो बसों में यात्रा की है, लेकिन यह यात्रा लोगों को जोड़ेगी। कांग्रेस नेता ने कहा कि लोगों को महंगाई और सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के बारे में बताया जाएगा।
भाजपा ने किया राहुल गांधी पर तंज- अपनी पार्टी से भी नहीं जोड़ सके, वहां भारत को जोड़ने निकले
कांग्रेस ने बुधवार से भारत जोड़ो यात्रा की शुरूआत की है। कांग्रेस की इस यात्रा पर भाजपा ने तंज कसा है। भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि जो अपने को अपनी पार्टी से भी नहीं जोड़ सके, वहां भारत जोड़ने की यात्रा पर निकले हैं।
भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस में एक दरबारी गायन होता है, कि राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाओ, फिर अध्यक्ष बनाओ राहुल कहते हैं कि मैं नहीं बनूंगा, बीच में राहुल गांधी विदेश यात्रा पर चले जाते हैं, पार्टी से कितना जुड़े हैं ये आप सभी जानते हैं।
भाजपा नेता ने कहा कि यह सबसे खराब व्यवस्था का पाखंड है, क्योंकि राहुल गांधी ने उरी और बालाकोट की घटना के लिए सबूत मांगकर देश की एकता को कमजोर करने की कोशिश की थी।
Spread the love
More from National NewsMore posts in National News »
%d bloggers like this: