Press "Enter" to skip to content

आजादी के अमृत महोत्सव के तहत शहर में 30 सितंबर तक लगाए जाएंगे मुफ्त बूस्टर डोज

Indore News Hindi। कोरोना वैक्सीन का तीसरा डोज (बूस्टर) मुफ्त होने के बावजूद ज्यादा लोग रूचि नहीं दिखा रहे हैं। अब तक मात्र करीब 3 लाख लोगों ने ही तीसरा डोज लगवाया है।

करीब 90 प्रतिशत लोगों को तीसरा डोज लगना बाकी है। 15 जुलाई के बाद करीब डेढ़ लाख लोगों ने बूस्टर डोज का लाभ लिया है। इसके पहले इतने ही लोगों ने सशुल्क टीका लगवाया था।

कोरोना से बचाव के लिए पहले और दूसरे डोज के लिए इंदौर के लोगों ने रिकॉर्ड बनाया था। अधिकारियों की अपील है कि तीसरे डोज के लिए भी शहरवासी पहले जैसी जागरुकता दिखाएं।

अब भी करीब 27 लाख लोग तीसरे डोज के लिए पात्र हैं। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत शहर में 30 सितंबर तक मुफ्त डोज लगाए जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग की कोशिश है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस दौरान टीके लगाए जाएं। फिलहाल विभाग की ओर से 100 से अधिक स्थानों पर टीकाकरण केंद्र बनाकर टीकाकरण किया जा रहा है।

31 लाख लोगों ने लगवाया दूसरा डोज

शहर में पहला डोज 32 लाख 11 हजार 897, जबकि दूसरा डोज 30 लाख 25 हजार 686 लोगों ने लगवाया है। दूसरे डोज के करीब 6 माह बाद लगभग 95 फीसदी लोग तीसरा डोज लगवाने के पात्र हैं। 10 अप्रेल से स्वास्थ्य विभाग ने प्रिकाशन डोज लगाना शुरू किया था। तब से अब तक 3 लाख 19 हजार 752 लोगों ने ही तीसरा डोज लगवाया है।

करीब एक लाख डोज उपलब्ध

जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. तरुण गुप्ता ने बताया कि करीब एक लाख डोज उपलब्ध हैं। इसमें करीब 70 हजार कोविशिल्ड, करीब 30 हजार कोवैक्सीन व अन्य के डोज हैं। नियमित रूप में वैक्सीन उपलब्ध हो रही है। हमारी कोशिश है कि ज्यादा से ज्यादा लोग तीसरा डोज लगवाएं।

Spread the love
More from Indore NewsMore posts in Indore News »
%d bloggers like this: