Press "Enter" to skip to content

ऊर्जस एप बारिश में तेजी से करा रहा बिजली शिकायतों का निराकरण 

इन्दौर। वर्षाकाल के दौरान फाल्ट, पेड़ों की शाखाएं लाइन पर गिरने से बिजली शिकायतों में ग्रीष्मकाल की तुलना में बढ़ोत्तरी हुई है। वर्तमान बारिश के दौर में मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी का ऊर्जस एप बिजली आपूर्ति संबंधी शिकायतों का तेजी से निराकरण करा रहा है। एप पर दर्ज शिकायतों पर तुरंत सुनवाई होती है, कुछ ही मिनटों में टीम उपभोक्ता के यहां पहुंच जाती हैं।
मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी इन्दौर के मुख्य महाप्रबंधक श्री रिंकेश कुमार वैश्य ने बताया कि प्रबंध निदेशक श्री अमित तोमर के निर्देशन में उपभोक्ता सेवाओं पर गंभीरता से कार्य किया जा रहा है, ताकि कठिनाई कम हो, आपूर्ति प्रभावित भी हो तो कम से कम समय में सामान्य हो जाए। श्री वैश्य ने बताया कि बारिश के दौरान बिजली शिकायतों के समाधान में काल सेंटर और ऊर्जस एप महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। ऊर्जस एप में बिना बात करे, बिना पता बताए मात्र आईवीआरएस नंबर से शिकायतें दर्ज हो रही है। आईवीआरएस नंबर भी यदि पहले से दर्ज हो तो मात्र चार से पांच सेकंड में शिकायतें दर्ज हो रही है। मुख्य महाप्रबंधक ने बताया कि पिछले चौबीस घंटे के दौरान इन्दौर शहर के 500 उपभोक्ताओं ने ऊर्जस एप की मदद से बिजली संबंधित शिकायतों का समाधान कराया है। इसी तरह देवास के 68, उज्जैन के 34, खंडवा के 14, रतलाम के 14, शाजापुर के 9 उपभोक्ताओं ने ऊर्जस के माध्यम से राहत पाई है। उन्होंने बताया कि ऊर्जस पर आपूर्ति संबंधी शिकायत दर्ज होते ही कॉल सेंटर के सेंट्रल मॉनिटर पर दिखाई देने लगती है। यहां से कर्मचारी अगले मिनिट ही शिकायत के निराकरण की सूचना संबंधित लाइन स्टॉफ को दे देता है। इस तरह दो से चार मिनिट में ही शिकायतों के समाधान के प्रयास प्रारंभ हो जाते है। कंपनी क्षेत्र में वर्षाकाल के दौरान अभी भी कई शिकायतों का समाधान 20 से 50 मिनिट के अंतराल से हो रहा हैं।
Spread the love
More from Indore NewsMore posts in Indore News »
%d bloggers like this: