Press "Enter" to skip to content

धार में भीषण टैंकर हादसा: 6 मजदूरों की मौके पर मौत, 3 नाबालिग भी शामिल, 24 घायल |

इंदौर-अहमदाबाद हाइवे पर साेमवार देर रात भीषण सड़क हादसे में 6 लोगों की मौत हाे गई, जबकि 24 से ज्यादा लाेग घायल हाे गए। मृतकों में तीन नाबालिग भी शामिल हैं। हादसा चिखलिया गांव के पास हुआ। सड़क पर पंक्चर खड़े पिकअप वाहन काे तेजगति से आए टैंकर ने पीछे से जाेरदार टक्कर मार दी। टक्कर लगते ही पिकअप वाहन में सवार मजदूर उछलकर सड़क पर जा गिरे। बताया जा रहा है कि पिकअप में करीब 40 मजदूर सवार थे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी मृतक मज़दूरों के लिए ट्वीट के ज़रिये संवेदना व्यक्त की है धार जिले के तिरला थाना क्षेत्र के चिखलिया फाटा पर सोयाबीन काटने आए मजदूरों से भरी पिकअप (एमपी 09 एमएच 9685) रोड किनारे टायर पंक्चर होने से खड़ी थी। तभी पीछे से आ रहे भारत गैस के टैंकर (एमपी 09 एमएच 9685) के चालक ने टक्कर मार दी, जिससे पिकअप में बैठे 6 मजदूरों की मौके पर माैत हो गई। वहीं, 24 लोग घायल हो गए। दो की हालत गंभीर होने पर उन्हें इंदौर रैफर कर दिया गया। घटना की सूचना मिलते ही एसपी आदित्य प्रताप सिंह, तिरला थाना प्रभारी रणजीत सिंह बघेल मौके पर पहुंचे।

यहां से घायलों को अस्पताल भिजवाया। एसपी ने भी अपने खुद के वाहन से घायलों को उपचार के लिए भेजा। हादसे में घायल और मृतकों के परिवार को कलेक्टर आलोक सिंह ने आर्थिक सहायता का ऐलान किया है। घटना के बाद टैंकर चालक मौके से फरार हो गया। एडीएम शैलेन्द्र सोलंकी ने बताया कि घटना रात करीब 2.45 बजे की है। हादसे में 6 की मौत हुई है। 24 लोग घायल हैं, जिनमें से 9 लाेगाें की हालत गंभीर है। कलेक्टर ने सभी घायलों का मुफ्त में इलाज करवाए जाने की घोषणा की है। प्रधान आरक्षक दिलीप सिंह ने बताया कि तिरला फोरलेन पर जय अंबे ढाबे के पास पिकअप वाहन पंक्चर हो गया था। कुछ मजदूर पिकअप से उतर गए थे। कुछ उसी में बैठे हुए थे। चश्मदीद कैलाश ने बताया कि हम सोयाबीन काटने केशर गए थे। देर रात करीब 11.45 बजे पिकअप वाहन से घर लौट रहे थे। हाईवे पर हम बोलाई के पास पहुंचे ही थे कि टायर पंक्चर हो गया। ड्राइवर समेत कुछ लोग टायर खोलने लगे। हम बाथरूम के लिए थोड़ा दूर चले गए। इसी दौरान तेजगति से आए टैंकर ने पिकअप वाहन को पीछे से उड़ा दिया। दौड़कर पहुंचा वहां लोग खून से लथपथ पड़े थे। छह ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। किसी के हाथ पैर टूटे, किसी के सिर पर चोट आई है। बच्चे और बड़े मिलाकर 40 से ज्यादा लोग थे। हादसे के बाद टैंकर चालक मौके से फरार हो गया है। कैलाश के अनुसार, वे टांडा के पास काेदी गांव के रहने वाले थे।

Spread the love

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: