Press "Enter" to skip to content

Health Tips – युवावस्था (35 से कम उम्र) में अचानक मृत्यु होने के संभावित कारण व बचाव उपाय 

Health Tips . दुनिया भर में कम उम्र में लोगों की अचानक होने वाली मृत्यु दर में अब तेजी से बढ़तोरी हो रही है। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण है खराब होती लाइफस्टाइल और इससे जुड़ी बीमारियां। दरअसल, लाइफस्टाइल खराब होने से मोटापा और डायबिटीज जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ता है। इसके अलावा इन बीमारियों के साथ स्ट्रेस का बढ़ना ब्लड प्रेशर पर गहरा प्रभाव डालता है जिससे, दिल की बीमारियां बढ़ती हैं। गौरतलब है कि पिछले कुछ सालों में हार्ट अटैक के मामले बढ़े हैं। ऊपर से महामारी इस दौरान तो काफी जवान मौतें हुई हैं। लोगों की अचानक मृत्यु (causes of sudden death) के अधिकतर कारण हृदय संबंधी रोग ही होते हैं। पर क्या सिर्फ हार्ट अटैक ही लोगों की अचनाक होने वाली मृत्यु का कारण है? आइए जानते हैं इस बारे में क्या कहते हैं एक्सपर्ट।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट?

डॉक्टर भूपेंद्र सिंह कार्डियोलॉजिस्ट, कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल गाजियाबाद, के अनुसार यदि आप अपना लाइफ स्टाइल, खाने पीने की आदतो या पोल्यूशन से खुद को नहीं बचाते तो आप भी अचानक होने वाली मृत्यु के रिस्क पर है। दरअसल ऐसा आम तौर पर किसी फिजिकल गतिविधि के दौरान या खेलते समय होता है। अब कम उम्र के लोगों की भी दिल की बीमारियों से होने वाली मृत्युदर बढ़ी है। जिस ने सभी को चिंता में डाल दिया है। स्टडीज के मुताबिक हर 50 हजार में से एक यंग की मृत्यु इसी कारण की वजह से होती है।

अचानक मृत्यु हो जाने के कारण.

1. कोरोनरी आर्टरी असामान्यता.

कई बार कुछ लोग पैदा ही इस स्थिति में होते हैं। इस स्थिति के अनुसार उनकी हृदय की आर्टरीज सामान्य रूप से नहीं जुड़ी हुई होती हैं। एक्सरसाइज के दौरान यह आर्टरीज दबाव में आ जाती हैं और हृदय को प्रॉपर ब्लड फ्लो नहीं पहुंचा पाती हैं।

2. हाइपरट्रोफिक कार्डियोपैथी.

इस स्थिति में हृदय की मसल्स मोटी हो जाती हैं। यह मोटी हुई मसल्स हृदय के इलेक्ट्रिकल सिस्टम को व्यस्त कर देती है। इसकी वजह से धड़कन तेज या हो जाती है। 30 से कम उम्र के लोगों की अचानक मृत्यु (causes of sudden death) का मुख्य और बहुत कॉमन कारण यही होता है।

3. लॉन्ग क्यूटी सिंड्रोम.

आगे पढ़े

Spread the love
More from Health NewsMore posts in Health News »
%d bloggers like this: