Press "Enter" to skip to content

नीट पीजी परीक्षा 2021 स्थगित करने के लिए आईएमए ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से किया अनुरोध

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया से 21 मई को होने वाली NEET-PG परीक्षा को स्थगित करने का अनुरोध किया है।

आईएमए ने बुधवार को स्वास्थ्य मंत्री को लिखे अपने पत्र में कहा कि परीक्षा की तैयारी के लिए बेहद कम समय मिल रहा है। ऐसे में उम्मीदवारों के हितों को देखते हुए नीट पीजी परीक्षा स्थगित की जानी चाहिए।

आईएमए ने अपने पत्र में याद दिलाया कि नीट-पीजी 2021 निर्धारित तिथि के पांच महीने बाद सितंबर 2021 के महीने में आयोजित की गई थी।

फिर 25 अक्टूबर, 2021 से शुरू होने वाली काउंसलिंग भी जनवरी 2022 में शुरू की गई थी। सीटों के आरक्षण पर लंबित निर्णय के कारण देरी और 31 मार्च, 2022 के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के कारण इनमें और देरी हुई।

जिसके कारण मॉप-अप राउंड के लिए विशेष दौर की काउंसलिंग को रद्द करने और आयोजित करने का आदेश देना पड़ा।

वहीं, नीट पीजी 2021 के काउंसलिंग शेड्यूल में हुई लगातार देरी के कारण नीट पीजी 2022 को अप्रैल से मई 2022 तक के लिए टाल दिया गया था, नीट पीजी 2021 के स्ट्रे वैकेंसी राउंड के लिए उपस्थित हो सकें।

कई राज्यों में अभी मई के मध्य में नीट पीजी काउंसलिंग के अलॉटमेंट भी होने हैं। ऐसे में नीट पीजी 2022 की परीक्षा टाली जानी चाहिए।

नीट पीजी परीक्षा 2022 को उचित समय के लिए स्थगित करें

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने कहा कि नीट पीजी परीक्षा 2022 की तारीख और नीट पीजी 2021 की काउंसलिंग के पूरा होने के बीच का अंतर इतना कम है कि इस तरह की अत्यंत कठिन परीक्षा की तैयारी करने और उसमें उपस्थित होने के इच्छुक उम्मीदवार के लिए यह बहुत मुश्किल है।

इसके कारण हजारों उम्मीदवार चिंतित हैं। इसलिए, हम इस समय आपसे हस्तक्षेप करते नीट पीजी परीक्षा 2022 को उचित समय के लिए स्थगित करने पर तत्काल विचार करने का अनुरोध करते हैं।

ताकि, वर्तमान नीट पीजी उम्मीदवारों के पास तैयारी के लिए पर्याप्त समय हो और वे सहजता से आगामी परीक्षा के लिए उपस्थित हो सकें।

Spread the love
More from Education NewsMore posts in Education News »
%d bloggers like this: