Press "Enter" to skip to content

Indore News – बाबा महाकाल के भक्तों की अटूट श्रद्धा , उज्जैन में हर रोज़ औसतन 5 करोड़ चढ़ावा, इधर इंदौर प्रशासन ने उखाड़ दिए बाबा के भंडारे 

 540 total views

Indore News. उज्जैन के बाबा महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में भक्तों ने दिल खोलकर दान दिया है। सिर्फ 110 दिनों में 23 करोड़ की आय प्राप्त हुई है। यह आय शीघ्र दर्शन, भस्म आरती, लड्डू प्रसादी आदि माध्यमों से हुई है। इतना ही नहीं विदेशी मुद्रा सहित ऑनलाइन दान भी मिला है। इस राशि का उपयोग मंदिर के विकास में किया जाएगा। दरअसल, कोरोना काल के चलते महाकाल मंदिर में दर्शनार्थियों का प्रवेश प्रतिबंधित था। भस्मारती भी मंदिर के पुजारी ही करते थे। श्रद्धालुओं के शामिल होने पर प्रतिबंध था। जून माह राहत की खबर लेकर आया और कोविड प्रोटोकॉल के तहत भक्तों को मंदिर में प्रवेश की अनुमति दी गई। हालांकि, भस्मारती के लिए भक्तों को सितंबर तक प्रतीक्षा करनी पड़ी। भक्तों के लिए महाकाल मंदिर खुलने और भस्मारती की अनुमति मिलने के बाद से अब तक करीब 110 दिन हुए हैं। इन 110 दिनों में लगभग 23 करोड़ रुपए की आय हुई है। यह दान राशि 28 जून से लेकर 15 अक्तूबर 2021 तक मिली है।
किस माध्यम से कितनी आय
महाकाल मंदिर में शीघ्र दर्शन टिकट से करीब साढ़े सात करोड़ रुपए की आय हुई, तो भेंट पेटी से साढ़े पांच करोड़ से ज्यादा राशि मिली। लड्डू प्रसाद से सवा आठ करोड़ के लगभग आय हुई। भस्मारती बुकिंग से 34 लाख रुपए की आय हुई। महाकाल ध्वजा एवं बुकिंग से करीब दो लाख की आय हुई। अन्य माध्यमों से करीब साढ़े 28 लाख रुपए की आय हुई। इतना ही नहीं विदेशी मुद्रा भी मिली है और ऑनलाइन दान भी आया है।

 इंदौर प्रशासन ने उखाड़ दिए बाबा के भंडारे – ज्ञात हो की इंदौर में पुलिस, प्रशासन, और नगर निगम ने संयुक्त कार्रवाई कर शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, एबी रोड के सामने चल रहे अंखड खिचड़ी भंडारे को ‘ध्वस्त’ कर दिया था जिसमे करीब 100 अधिकारी, कर्मचारियों की टीम शामिल थे | यह भंडारा महाकाल सेना एवं अखबार (खुलासा फर्स्ट)  द्वारा आयोजित था।

Spread the love
More from Indore NewsMore posts in Indore News »