Press "Enter" to skip to content

Kalki Avtaar: भगवान विष्णु कब लेंगे कल्कि अवतार और कब खत्म होगा कलयुग, जानें यहां

हिंदू धर्मशास्त्रोंत के अनुसार, भगवान विष्णुर (Lord Vishnu) के 10 अवतार बताए गए हैं। भगवान विष्णुट 9 अवतार ले चुके हैं और कलियुग (Kalyug) में उनके कल्किक अवतार (Kalki Avtaar) लेने की बातें कही जाती हैं।शास्त्रों के अनुसार, घोर कलियुग के समय में धर्म, सत्य, पवित्रता, क्षमा, आयु समाप्ति की कगार पर आ जाएंगे।जिसके पास धन होगा, उसी के पास बाहुबल होगा, वहीं कुलीन होगा और सबसे अधिक छल कपट करने वाले को ही लोग सबसे कुशल मानने लगेंगे।कलियुग (वर्तमान युग) में व्याउभिचार चरम पर होगा, लोग एक-दूसरे के खून के प्या से हो जाएंगे, इंसान दूसरे इंसान से जलने लगेगा और अधर्मियों का बोलबाला होगा। घोर कलियुग में बल से बली को ही लोग बाहुबली मानेंगे। अधर्मी राज करेंगे।

तब भीषण अकाल पड़ेगा। लोग भोजन की कमी के चलते पशुओं की तरह पत्तियां खाकर जीवन व्योतीत करेंगा। कलह-क्लेश से युक्त घोर कलियुग में लोगों में केवल असंतोष दिखेगा। बल-बुद्धि, धर्म, पूजा-पाठ का अंत होगा और लोग पाखंड से प्रभावित होने लगेंगे,तब भगवान विष्णुे कल्किल के रूप में अवतार लेंगे। कल्किऔ अवतार में भगवान विष्णुे गुस्सेव काले पड़ जाएंगे। इनके हाथों में दो तलवारें होंगी और वह किसी ब्राम्हण के घर पैदा होंगे। भगवान कल्कि ऐसे समय पैदा होंगे, जब पृथ्वी पर पाप की पराकाष्ठा होगी।उस समय दुष्टों के संहार करने के लिए भगवान विष्णु कल्किी का अवतार लेंगे। दुष्टोंन के संहार के बाद कलियुग समाप्त हो जाएगा और एक बार पुन: सतयुग शुरू हो जाएगा।

Spread the love

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: