Press "Enter" to skip to content

इंदौर में हो रही राष्ट्रीय हैंडबॉल स्पर्धा अमान्य एवं अवैध, हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया को हुई शिकायत 

चिमनबाग मैदान पर हो रही राष्ट्रीय स्पर्धा अमान्य है एवं खिलाड़ियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है. वर्तमान में  हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष जगनमोहन रॉव एव महासचिव तेजराज सिंह है इनके द्वारा 50 वी राष्ट्रीय हैंडबॉल प्रतियोगिता दिनांक 29/3/22 से हैदराबाद में प्रारंभ हो चुकी है ।
हमेशा विवादों में रहने वाली मध्यप्रदेश हैंडबॉल एसोसिएशन में इस बार नया मामला सामने आया है.
एसोसिएशन के सचिव डॉक्टर हरदीप सिंह रुप्पल एवं कोषाध्यक्ष पंडित पवन शर्मा ने बताया  कि इंदौर के चिमनबाग मैदान पर हो रही राष्ट्रीय स्पर्धा अमान्य है एवं खिलाड़ियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है.
वर्तमान में हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष जगनमोहन रॉव एव महासचिव तेजराज सिंह है इनके द्वारा 50 वी राष्ट्रीय हैंडबॉल प्रतियोगिता दिनांक 29/3/22 से हैदराबाद में प्रारंभ हो चुकी है जो की 3 अप्रैल तक चलेगी.
बता दे कि हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया को इंटरनेशनल हैंडबॉल फेडरेशन एंड एशियन फेडरेशन के  साथ इंडियन ओलिंपिक एसोसिएशन से भी मान्यता प्राप्त है ।
अगर कोई भी संगठन किसी भी तरह की राष्ट्रीय / राज्य स्तरीय प्रतियोगिता कराता है तो उसका कोई महत्व नही है.
हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा अभी हाल ही में एशियन हैंडबॉल चैंपियनशिप में टीम भेजी गई थी.  जिस मे  यूथ गर्ल्स टीम को गोल्ड मैडल मिला था.

इंदौर में हो रही राष्ट्रीय हैंडबॉल स्पर्धा मान्यता प्राप्त नही है

हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के वर्तमान अध्यक्ष जगनमोहन राव और महासचिव तेजराज सिंह है. हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया की एग्जीक्यूटिव कमेटी ने मध्यप्रदेश हैंडबॉल एसोसिएशन को भंग कर दिया था.

वर्तमान मे मध्यप्रदेश हैंडबॉल एसोसिएशन के अध्यक्ष दीपक जैन (टीनू)  एवं महासचिव हरदीप सिंह रुप्पल है। इंदौर में होने वाली राष्ट्रीय स्पर्धा फैक व अवैध है और खिलाड़ियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है।

50 वी हैंडबॉल सीनियर राष्ट्रीय स्पर्धा हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के तत्वावधान मे तेलंगाना हैंडबॉल एसोसिएशन द्वारा आयोजित की जा रही है . जिसमे 33 राज्यों की टीमें भाग ले रही है ।

इंदौर मे सिर्फ 7 टीम ही भाग ले रही है। इंदौर मे होने वाली स्पर्धा पूरी तरह से अवैध है. इंदौर के लोकल खिलाड़ियों को खडा कर टीमों की संख्या बढ़ाई गई है ।

Spread the love
More from Sports NewsMore posts in Sports News »
%d bloggers like this: