Press "Enter" to skip to content

‘कोई भी पार्टी का आधिकारिक उम्मीदवार नहीं, सब मर्जी से लड़ रहे’- मधुसूदन मिस्त्री

कांग्रेस के नए अध्यक्ष के चुनाव को लेकर तैयारी आखिरी चरण में है. मल्लिकार्जुन खड़गे, शशि थरूर और केएन त्रिपाठी ने नामांकन फॉर्म भर दिया है. कांग्रेस नेता और केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री ने कहा, ‘मल्लिकार्जुन खड़गे ने 14, शशि थरूर द्वारा 5 और केएन त्रिपाठी द्वारा 1 फॉर्म जमा किए. कल (1 अक्टूबर) हम फॉर्म की जांच करके शाम तक हम उन फॉर्म की घोषणा करेंगे जो वैध हैं और उम्मीदवारों के नाम की भी एलान करेंगे.

मधुसूदन मिस्त्री ने बताया कि तीनों नेता में से कोई भी पार्टी का आधिकारिक उम्मीदवार नहीं है. कोई भी अगर यह दावा करता है कि उन्हें अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी का समर्थन है तो गलत होगा. साथ ही वो चुनाव में निष्पक्ष रहेंगी. राज्यसभा सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे के प्रस्तावकों में आनंद शर्मा, पृथ्वीराज चव्हाण, मनीष तिवारी और भूपेंद्र हुड्डा जैसे नेता शामिल रहे जो पार्टी में बदलाव की मांग उठाने वाले नेताओं के समूह जी-23 (G-23) में भी शामिल रहे हैं. वहीं शशि थरूर भी जी-23 में रहे हैं. उन्होंने नामांकन पत्रों के पांच सेट दाखिल किए, झारखंड के पूर्व मंत्री त्रिपाठी ने भी मधुसूदन मिस्त्री के समक्ष नामांकन पत्र दाखिल किया.

‘हम दुश्मन नहीं है’

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, ‘मैं हमेशा वंचितों के हक की लड़ाई लड़ता रहा हूं और मैं कांग्रेस पार्टी के सिद्धांतों को बनाए रखने के लिए के लिए तैयार हूं.’ वहीं कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने दावा किया कि नामांकन पत्र दाखिल करते हुए 50 लोगों ने मेरा समर्थन किया है. देश के 12 राज्यों के कांग्रेस वर्करों ने हमारी मदद की है.

उन्होंने खड़गे को पार्टी का ‘भीष्म पितामह’ बताया. साथ ही कहा कि भारत की एकमात्र ऐसी पार्टी की सेवा करना सम्मान की बात है जो अपने नेता का चुनाव खुली लोकतांत्रिक प्रक्रिया से करती है. मैं और मल्लिकार्जुन खड़गे दुश्मन नहीं हैं.’ बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव  17 अक्टूबर को होगा और रिजल्ट 19 अक्टूबर को आएगा. इसमें पार्टी के 9,100 प्रतिनिधियों को वोट देने का अधिकार है.

Spread the love
More from National NewsMore posts in National News »
%d bloggers like this: