Press "Enter" to skip to content

आज अनंत चतुर्दशी पर झिलमिलाती झांकियां, अखाड़ों के साथ चल समारोह के बाद लाखों लोगों का जयकारा होगा 

गणपति बप्पा मोरया अगले बरस तू जल्दी आ

Indore News in Hindi – दस दिन तक भक्तों के बीच रहने के बाद विघ्नहर्ता सुखकर्ता भगवान श्री गणेश अपने धाम को वापस लौटने के लिए आज विसर्जन के लिए चल पड़ेगे. दस दिन पहले गणेश चतुर्थी के पावन अवसर पर श्री गौरी पुत्र गणेश की प्रतिमाये घर और पंडालों में स्थापित की गई थी।

गणपति बप्पा मोरया अगले बरस तू जल्दी आ के गगनचुंबी जयकारों के बीच प्रतिमाओं को पवित्र जल में विसर्जित किया जायेगा। प्रत्येक वर्ष सम्पूर्ण भारत वर्ष में गणेश चतुर्थी को स्थापित किए जाने वाले भगवान गौरी पुत्र गणेश जी का पांच, सात अथवा दस दिन बाद अनंत चतुर्दशी को जल में विसर्जन किया जाता है।

पंडित पूर्णानंद व्यास ने बताया कि यह परंपरा द्वापर युग से चली आ रही है। उस समय गणेश चतुर्थी पर श्री वेदव्यास जी ने विघ्नहर्ता श्री गणेश जी को महाभारत सुनाते हुए इसे कलम बंद करने के लिए कहा था। श्री गणेश यह कथा लगातार दस दिन अनंत चतुर्दशी तक अपने कर कमलों द्वारा लिखते रहे।

महाभारत की संपूर्णता पर जब व्यास जी महाराज ने गणेश जी को उनके आसन से उठाया तो उस समय श्री गणेश जी का शरीर बहुत तप रहा था तो व्यास जी ने गणेश जी का हाथ पकड़कर उन्हें पास ही स्थित सरोवर में स्नान करवाया। इससे उनका शरीर शीतल हो गया। तभी से श्री गणेश जी के स्वरूप को स्नान अथवा विसर्जन करने की परंपरा चली आ रही है।

इंदौर शहर में अनंत चतुर्दशी को विशेष रूप से मनाया जाता है इस दिन रोशन करती हुईं झिलमिलाती झांकियां,अखाड़ों के साथ चल समारोह में निकलती है इसकी व्यवस्था हेतु सभी तैयारियां एवं कानून व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की जाती है.

Spread the love
More from Indore NewsMore posts in Indore News »
%d bloggers like this: