Press "Enter" to skip to content

बातों में उलझाकर तीन महिलाएं ले गईं 40 ग्राम सोने के झुमके, इंदौर अपराध की अन्य ख़बरें जाने 

 

बातों में उलझाकर तीन महिलाएं ले गईं 40 ग्राम सोने के झुमके, इंदौर अपराध की अन्य ख़बरें जाने 

Indore Crime News. सराफा टीआई सुनील शर्मा के अनुसार, चोरी मयूरी ज्वेलर्स में हुई। अन्नपूर्णा में रहने वाले ज्वेलर्स धर्मेंद्र वर्मा ने बताया कि दुकान में दो सेल्स गर्ल्स थीं, तभी मराठी स्टाइल में साड़ी पहने तीन महिलाएं आईं। एक ने मास्क और दो ने मुंह पर दुपट्‌टा बांध रखा था। तीनों ने 5-5 ग्राम वजनी झुमकियां मांगी। सेल्स गर्ल ने कहा कि वे ऐसी झुमकियां नहीं रखती हैं, लेकिन सामने से मंगा कर दिखा देंगी। सेल्स गर्ल ने सामने की दुकान से तीन-चार डिब्बे मंगाए और महिलाओं को दिखाना शुरू किया। दो महिलाओं ने दोनों सेल्स गर्ल्स को बातों में उलझाया, जबकि तीसरी खड़ी होकर रैकी कर रही थी, तभी एक ने पलक झपकते ही डिब्बा काउंटर से खींचकर अपने पैरों के बीच फंसा लिया। फिर कुछ मिनट बाद साथ वाली महिला को दे दिया। इसके बाद तीनों चली गईं।

2. कॉटन कॉर्पोरेशन डिपार्टमेंट में परचेस ऑफिसर के पद से रिटायर महेश चंद्र शर्मा ने पुलिस को बताया- मैं पत्नी द्रौपदी के साथ सराफा में रतलाम ज्वेलर्स की दुकान में कान के टॉप्स खरीदने गया था। खरीदी करने के बाद हम घर पहुंचे। मैं बाइक खड़ी करने लगा, तभी बाइक पर पीछे बैठे एक बदमाश ने पत्नी को झपट्टा मारा। घबराहट के कारण एक-दो मिनट तक वह कुछ बोल ही नहीं पाई। बदमाश पर मेरी नजर पड़ी तो वह मुस्कुराता हुआ निकल गया, शुक्रवार दोपहर 2.15 बजे रिटायर्ड अधिकारी के घर के सामने बाइक सवार दो बदमाश उनकी पत्नी से जेवर और रुपयों से भरा बैग लूट ले गए। उसमें 36 हजार रुपए के टॉप्स और 40 हजार रुपए रखे थे। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर तिलक नगर पुलिस बदमाशों की तलाश कर रही है।

3. पूर्व आबकारी उपायुक्त नवलसिंह जामौद की गिरफ्तारी के आदेश हाई कोर्ट के बाद शुक्रवार को हाई कोर्ट से अग्रिम जमानत मिल गई। शुक्रवार को उन्होंने विशेष न्यायालय के समक्ष हाई कोर्ट का आदेश प्रस्तुत करते हुए नियमित जमानत ले ली।अक्टूम्बर 2014 में इंदौर के आबकारी विभाग में पदस्थ हुए डिप्टी कमिश्नर नवलसिंह जामोद के घर लोकायुक्त पुलिस द्वारा छापा मार कार्यवाही की गई थी जिसमे 5 करोड़ से ज्यादा की अनुपातहीन संपत्ति उजागर हुई थी

4. मामला 2015 का है। लसुडिया थाना क्षेत्र में रहने वाले 58 वर्षीय बिजलीकर्मी के खिलाफ उसकी 23 वर्षीय पुत्रवधु ने दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। एडवोकेट महेंद्र मौर्य ने बताया कि महिला का आरोप था कि 2013 में जब उसका पति काम पर और सास राजस्थान गई थी उसके ससुर ने पूजा कराने के नाम पर उसके साथ दुष्कर्म किया। दो माह बाद भी ऐसा ही हुआ। मौर्य ने बताया कि महिला का पति के साथ विवाद था। पति ने उसके खिलाफ इंदौर कुटुम्ब न्यायालय में तलाक के लिए केस भी दायर किया हुआ है। इसी के बाद महिला ने ससुर पर आरोप लगाते हुए रिपोर्ट लिखाई थी। शुक्रवार को न्यायाधीश चारूलता डांगी ने मामले को संदेहास्पद मानते हुए आरोपित को बरी कर दिया।

Spread the love
More from Crime NewsMore posts in Crime News »
More from Indore Crime NewsMore posts in Indore Crime News »
%d bloggers like this: