Press "Enter" to skip to content

सुन लो भ्रष्ट अधिकारी और नेताओं यह न्याय की देवी मां अहिल्या का शहर है

इंदौर शहर न्याय की देवी मां अहिल्या का शहर है। मां अहिल्या ने न्याय के खातिर अपने ही पुत्र को रथ से कुचलवाने का आदेश दे दिया था। इसी शहर ने बड़े राजनीतिज्ञ पीसी सेठी, सुरेश सेठ, महेश जोशी जैसे का रसूख बनते और बिगड़ते देखा, यही वह शहर है जिसने कालू भाट, बाला बैग, विष्णु उस्ताद जैसे बाहुबलीयों का रुतबा बनते और बिगड़ते देखा। मां अहिल्या की नगरी में अनेक व्यापारियों के पैसे के घमंड को चकना चूर होते देखा। जहां यह सत्य है कि माता अन्नपूर्णा के कारण इस शहर में कोई भूखा नहीं सोता, उतना ही सत्य यह भी है की यहां अन्याय करने वालों का मां अहिल्या स्वयं न्याय कर देती है। कुछ दिन पूर्व मध्यप्रदेश की कैबिनेट मंत्री उषा ठाकुर ने मां अहिल्या का कोरोना बीमारी के खात्मे के लिए पूजन किया। मंत्री जी आप मां अहिल्या की पूजा तो करती हैं पर अन्याय के विरोध में आवाज क्यों नहीं उठाती? शहर के लोग ऑक्सीजन, दवाइयां,और अस्पताल में बिस्तरों के लिए दर-दर भटक रहे हैं आप उनके साथ खड़ी क्यों नहीं होती है?

इस शहर में हो रहे अपराधों और अन्याय पर मां अहिल्या खुद ही न्याय कर देती है ।

यह जो भी हो रहा है चाहे पोस्टमार्टम रूम में रंगरेलियां मनाना, या पीली गैंग द्वारा कमजोर और गरीब बच्चे का ठेला पलटा देना, किसी अखबार के ऑफिस में गुंडागर्दी करना या खाकी वर्दी द्वारा छोटे बच्चे के सामने उसके पिता की क्रूरता से पिटाई करना, ऐसे अनेकों मामले हैं जहां अन्याय हो रहा है। इन मामलों में अधिकारी और नेताओं की सेटिंग से जांचे दम तोड़ देती है। ऐसे भ्रष्ट अधिकारी और नेता यह ध्यान रखें कि यह शहर मां अहिल्या का है जहां न्याय होता ही है। आप लोग जिस तरह से इस शहर की पहचान को मिटाने में लगे हैं ऐसा कदापि नहीं हो सकता।

1 साल पहले हुए लॉकडाउन में जहां शहर के सामाजिक, व्यापारिक और धार्मिक लोगों द्वारा जनमानस की सेवा की गई, इंदौर वासियों सहित प्रवासियों को दाना पानी उपलब्ध करवाया गया, उसकी तारीफ पूरे देश ने की। परंतु आप लोगों के द्वारा उनके व्यापार के ऊपर पीली और खाकी गैंग भेज कर ताले जड़वा दिए गए, बिजली बिल, जलकर, स्वच्छताकर या अन्य किसी प्रकार के टैक्स में आप लोगों द्वारा कोई मदद नहीं की, इसके उलट कर में वृद्धि कर दी गई जिसका विरोध चारों तरफ हुआ।

आगे पढ़े

Spread the love
%d bloggers like this: