Press "Enter" to skip to content

MP News in Hindi – मध्यप्रदेश हिंदी समाचार

MP News in Hindi-1

राज्यपाल मंगू भाई पटेल कोरोना पॉजिटिव


-एम्स में भर्ती, सर्दी, जुकाम, बुखार और सांस में तकलीफ, हालत स्थिर

भोपाल।
 राज्यपाल मंगू भाई पटेल एम्स में भर्ती हैं। तबीयत खराब होने के बाद उन्हें शनिवार रात नौ बजे भोपाल के एम्स में एडमिट कराया गया। डॉक्टरों के मुताबिक राज्यपाल को तीन दिन से खांसी, बुखार और सांस लेने में तकलीफ की शिकायत हो रही थी।
जिसके बाद उन्हें एम्स में भर्ती किया गया है। रविवार सुबह एम्स प्रबंधन ने उनका हेल्थ बुलेटिन जारी किया। उनकी हालत में लगातार सुधार हो रहा है।
रविवार सुबह उनका सीटी स्कैन भी किया गया है। एम्स के चिकित्सकों के मुताबिक सुबह उन्हें बुखार भी नहीं आया है।  उनकी कोरोना जांच भी की गई थी। शाम को आरटी पीसीआर रिपोर्ट पॉजिटिव मिली।
मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष डा. रजनीश जोशी के साथ डॉक्टरों की टीम के मुताबिक भर्ती होने के वक्त राज्यपाल को बुखार था।जांच के तुरंत बाद उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट दिया गया और जांचें कर इलाज शुरू किया गया। डॉक्टरों के मुताबिक इलाज के बाद राज्यपाल ने रात में भोजन करने के बाद अच्छी नींद ली।
सीएम ने एम्स पहुंचकर जाना हाल
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को एम्स पहुंचकर राज्यपाल मंगू भाई की सेहत के बारे में जानकारी ली। सीएम ने एम्स के डायरेक्टर डॉ. अजय सिंह से मिलकर राज्यपाल के उपचार के संबंध में चर्चा की।

MP News in Hindi-2

 महाकाल की थाली वाले विज्ञापन पर जोमैटो ने मांगी माफी


– बॉयकॉट ट्रेंड होने के बाद हटाया गया ऐड

भोपाल। 
ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो ने अपने एक विज्ञापन को लेकर माफी मांगी है। साथ ही कंपनी ने इस पर सफाई भी जारी की है।
दरअसल, विज्ञापन में अभिनेता ऋतिक रोशन महाकाल थाली ऑर्डर करते हैं जिसे लेकर हिन्दू जनजागृति मंच के लोगों ने जोमैटो के बायकॉट का आह्वान किया था। विज्ञापन में ऋतिक कहते हैं, थाली खाने का मन था महाकाल से मंगा लिया।
हिंदू जनजागृति मंच ने इस पर आपत्ति जताते हुए कहा, महाकाल कोई नौकर नहीं है जो खाना डिलीवर करें, वह एक भगवान है जिनकी पूजा होती है। क्या जोमैटो किसी अन्य धर्म के भगवान का इसी तरह अपमान कर सकता है।
बता दें कि हिंदू धर्म के अनुयायी भगवान शिव को महाकाल भी कहते हैं। जोमैटो ने इस विवाद के बाद अपनी सफाई जारी की है। कंपनी ने कहा है कि विज्ञापन में महाकाल रेस्टोरेंट की थाली का जिक्र किया गया है न कि श्री महाकालेश्वर मंदिर का।
कंपनी की सफाई
बकौल जोमैटो, यह विज्ञापन उनके भारत भर में जारी कैंपेन का हिस्सा है जिसमें वह स्थानीय तौर पर प्रसिद्ध फूड आउटलेट्स के सबसे अधिक चर्चित मैन्यू को प्रमोट कर रहे हैं। जोमैटो ने कहा, हम उज्जैन के लोगों की भावनाओं का सम्मान करते हैं।
इस विज्ञापन को बंद कर दिया गया है। हमारी मकसद किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था और हम इसके लिए माफी मांगते हैं। आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के उज्जैन में स्थित महाकालेश्वर मंदिर भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक है।
मंदिर के 2 पुजारियों ने उठाया मुद्दा
जोमैटो के खिलाफ बॉयकॉट की शुरुआत महाकालेश्वर मंदिर के 2 पुजारियों द्वारा इस मुद्दे को उठाने के बाद हुई थी। दोनों पुजारियों ने इस विज्ञापन को तुरंत हटाए जाने की मांग की थी।
पुजारियों का कहना था कि उनका प्रसाद एक थाली में श्रद्धालुओं को मुफ्त में दिया जाता है और यह कोई फूड डिलीवरी ऐप से ऑर्डर की जाने वाली थाली नहीं है।
वे इस मामले को लेकर उज्जैन के डीसी आशीष सिंह के पास भी पहुंचे थे। इसके बाद से ही ट्विटर पर जोमैटो के खिलाफ बॉयकॉट ट्रेंड शुरू हो गया था।

MP News in Hindi-3

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शहीद गिरिजेश कुमार को दी श्रद्धांजलि


शहीद गिरिजेश कुमार की प्रतिमा स्थापित की जाएगी
एक शासकीय संस्थान का नामकरण
परिवार को एक करोड़ रूपये की सम्मान-निधि

भोपाल। 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मंडला जिले के शहीद सैनिक गिरिजेश कुमार उद्दे ने मध्यप्रदेश का मस्तक ऊँचा किया है। उनके बलिदान पर हमें गर्व है। स्व. गिरिजेश कुमार की स्मृति में एक शासकीय संस्थान का नामकरण किया जाएगा।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि माँ भारती की सीमाओं की सुरक्षा करते हुए मंडला जिले के गांव चारगांव मूल निवासी बीएसएफ के जवान गिरिजेश कुमार उद्दे त्रिपुरा में भारत-बांग्लादेश की सीमा पार कर आए आतंकवादियों से लड़ते हुए देश के लिए शहीद हो गए। मैं उनके चरणों में प्रणाम करता हूँ।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि शहीद गिरिजेश कुमार के परिवार में उनकी धर्मपत्नी, बेटी चंद्रिका, दो बेटे विपिन और तनु हैं। बच्चे अध्ययनरत हैं। मुख्यमंत्री के नाते मैं, राज्य सरकार और पूरा प्रदेश, शहीद परिवार के साथ है। परिवार को कोई परेशानी न हो, इसकी चिंता हम करेंगे।
शहीद का परिवार अपने आपको अकेला न समझे। शहीद के परिवार को एक करोड़ रुपये की सम्मान-निधि प्रदान की जाएगी। शहीद स्व. गिरिजेश कुमार की प्रतिमा उनके परिजन से विचार कर उचित स्थान पर स्थापित की जाएगी।
एक सरकारी संस्थान का नामकरण भी शहीद स्व. गिरिजेश कुमार उद्दे के नाम पर किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमें गर्व है कि मंडला जिले में ऐसे वीर सपूत ने जन्म लिया, जिसने मध्यप्रदेश का मस्तक गर्व से ऊँचा कर दिया। ऐसे शहीद के चरणों में श्रद्धा-सुमन अर्पित है।
Spread the love
More from Madhya Pradesh NewsMore posts in Madhya Pradesh News »
%d bloggers like this: