Press "Enter" to skip to content

अगर आप भी करती हैं ये काम तो घर में आ सकती है दरिद्रता

जैसा कि वास्तु शास्त्र में किचन को अहम स्थान दिया गया है। कहते हैं कि पवित्रता और शुद्धता में ही भगवान का वास होता है।

लेकिन क्या आप जानते हैं। किचन में की गई आपकी छोटी सी गलती आपकी गरीबी का कारण बन सकती है और इसी गलती में से 1 गलती है महिलाओं द्वारा रात को जूठे बर्तन छोड़ना। जी हां, आपने सही सुना। तो आज हम आपको इस वीडियो में बताएंगे महिलाओं द्वारा रात को जूठे बर्तन छोड़ने पर परिवार को क्या अंजाम भुगतना पड़ता है। तो आइए जानते हैं-

अक्सर आपने देखा होगा कि कई घरों में रात को खाना खाकर बर्तन बिना धोए ही जूठे छोड़ दिए जाते है। या फिर कई बार मेहमानों के चले जाने के बाद महिलाएं थक कर जूठे बर्तनों को ऐसे ही छोड़ कर सो जाती है। हालांकि कई घरों में आज भी रात में सारे बर्तन धोकर ही सोया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं जो लोग रात में जूठे बर्तन छोड़ देते हैं वास्तु शास्त्र के मुताबिक इसे अशुभ माना जाता है। ये सिर्फ धार्मिक दृष्टि से ही नहीं बल्कि वैज्ञानिक दृष्टि से भी गलत है।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार अगर रात को आप बर्तन बिना धोए सो जाते हैं तो इसका असर घर के सदस्यों पर पड़ता है। इतना ही नहीं ऐसा कहा जाता है कि जिस घर की महिलाएं रात को जूठे बर्तन छोड़कर सो जाती है ऐसे घर में कभी भी धन की देवी मां लक्ष्मी का कभी वास नहीं होता। क्योंकि मान्यता है कि बर्तनों में मां लक्ष्मी का वास होता है। जिन घरों में बर्तन धोने बिना लोग सोते हैं वहां गरीबी के आसार मंडराने लगते हैं। शास्त्रों में यहां तक कहा गया है कि बर्तन साफ किए बिना सोना गरीबी को बुलावा देने जैसा होता है। अगर रात में आप बर्तन बिना धोए सो जाते हैं तो देवी लक्ष्मी आपसे नाराज हो जाती है। आपके घर में आर्थिक तंगी हमेशा बनी रहती है। साथ ही घर में दरिद्रता का वास होता है।

हिन्दू शास्त्रों में साफ-सफाई के बारे में कहा गया है कि जिस घर में हमेशा साफ-सफाई रहती है। उस घर के सदस्यों के बीच हमेशा आपसी तालमेल बना रहता है व उसके घर का वास्तु हमेशा अच्छा रहता है। तो वह अगर साफ-सफाई का ध्यान नहीं दिया गया तो इससे कई परेशानियां बढ़ सकती हैं।

घर में साफ-सफाई न रखी जाए तो घर में वास्तुदोष बढ़ता है, साथ ही अनहोनी होने का भी डर बना रहता है। तो वहीं जूठा बर्तन ज्यादा देर तक घर में रखना अशुभ सूचक होता है। बता दें कि भोजन करने के बाद सभी जूठे बर्तनों को साफ कर देना चाहिए।

जो लोग रात का खाना खाने के बाद आलस के मारे बर्तनों को जूठा ही छोड़ देते हैं। ऐसा करना शास्त्रों में गलत माना गया है। जूठे बर्तनों को बिना धोए सोने से हमारे घर में वास्तु दोष बढ़ जाता है। घर की सुख-शांति पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ता है। बता दें कि जिस घर में रात को बर्तन साफ नही होते वहां के लोगों की तरक्की पर बुरा असर पड़ता है। साथ ही ऐसे घरों में परिवार के सभी सदस्य दुखी रहते हैं।

इसके अलावा आपको बता दें, जूठे बर्तन छोड़ने के पीछे न सिर्फ धार्मिक कारण बल्कि इसका वैज्ञानिक कारण भी है। जिसके अनुसार रात को घर में झूठे बर्तन रखने से बर्तनों में छोटे-छोटे बैक्टीरिया जन्म लेते हैं और रात भर में उनकी संख्या तेजी से बढ़ने लगती है सुबह इन बर्तनों की सफाई करने पर भी इनमें बैक्टीरिया रह जाते हैं जो बीमारियों का कारण अगर आप भी रात को जूठे बर्तन छोड़कर सो जाते हैं तो अपनी ये आदत जल्द ही बदल दें।

Spread the love
More from Religion newsMore posts in Religion news »
%d bloggers like this: