Press "Enter" to skip to content

Vastu Tips – Safalta ki kunji – अगर आपके दम तोड़ते कारोबार में फुकना है नई जान, तो अपनाएं ये 5 समाधान

 152 total views

अगर आपको लगता है कि समय के साथ आपके कारोबार में कमी आ रही है, या मनचाहा लाभ नहीं हो रहा है तो समय कुछ जरूरी बदलावों को लागू करने का आ गया है.

Safalta ki kunji : वर्तमान समय में बनती बिगड़ती परिस्थितियों के बीच सर्वाधिक नुकसान की मार कारोबार जगत पर पड़ी है, इसमें छोटे और मध्यम दर्जे के व्यापारियों के लिए समय बेहद चुनौतीपूर्ण हो चुका है. इस समय अधिकांश के सामने दम तोड़ते कारोबार में नई जान फूंकने की चुनौती है, जिसके चलते कारोबारी असेट मैनेजमेंट के साथ-साथ ग्रह दशा, वास्तु और टोटको का सहारा भी ले रहे हैं, आइए जानते हैं कुछ ऐसे उपाय, जिनका पालन कर आप भी लाभ पा सकते हैं.

जिस तरह कुबेरजी धन के देवता हैं, वैसे ही बुध भी बुद्घि-व्यापार के कारक ग्रह हैं. इसीलिए कुबेर को उत्तर दिशा का स्वामी माना गया है, जबकि बुध ग्रह को इस दिशा का प्रतिनिधि माना जाता है.

आपके घर की उत्तर दिशा अगर दोषपूर्ण है, तो वहां रहने वाले मनुष्य की बुद्घि भ्रमित हो सकती है. ऐेसे में समय पर निर्णय लेने में खुद को असहज महसूस कर सकते हैं, गलत फैसले कर सकते हैं. उनकी आर्थिक उन्नति में बाधाएं आने लगती हैं.
कारोबारियों को अपने व्यावसायिक प्रतिष्ठान की उत्तर दिशा दोष मुक्त रखने की जरूरत है, जिससे अधिक से अधिक उन्नति हो सकें. उन्हें उत्तर दिशा की दीवार पर हरे रंग के तोते की तस्वीर जरूर लगानी चाहिए.
बुध का प्रिय रंग हरा है. हरे रंग का पक्षी (तोता) है, इसीलिए उत्तर में हरे तोते की तस्वीर से वहां का दोष खत्म होता है और मनुष्य को शुभ फल मिलने लगते हैं। धीरे-धीरे मनुष्य की व्यापारिक उन्नति होकर वह जीवन में सुख और समृद्धि का अनुभव करता है.

एक उपाय ये भी.
व्यापार में वृद्धि के लिए मिट्टी के तीन दीपक में पीली सरसों, तिल, साबुत नमक और साबुत धनिया मिलाकर अपनी सीट के पास रख दें. इससे कारोबार में बढ़ोतरी के साथ ग्राहकों का रुझान भी बढ़ता नजर आएगा.

Spread the love
More from Religion newsMore posts in Religion news »