Press "Enter" to skip to content

Atal Tunnel: जंग छिड़ी तो अटल टनल को बर्बाद कर देगी चीनी सेना- Global Times

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को हिमाचल प्रदेश के रोहतांग में सामरिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण अटल टनल का उद्घाटन किया. पीएम नरेंद्र मोदी ने सुरंग का उद्घाटन करते हुए कहा था कि ये सुरंग देश के बॉर्डर इन्फ्रास्ट्रक्चर की नई ताकत बनेगी. पीएम मोदी ने चीन को इशारों-इशारों में संदेश दिया और कहा कि बॉर्डर इन्फ्रास्ट्रक्चर की कई परियोजनाएं पूरी हो चुकी हैं और कई पर तेजी से काम चल रहा है. भारत के सीमाई इलाके में इन्फ्रास्ट्रक्चर मजबूत होते देखकर चीनी मीडिया भी बेचैन हो उठा है. हमेशा की तरह, चीन की सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स ने अटल टनल को लेकर अपना प्रोपेगैंडा छापा है और भारत को धमकी देने की कोशिश की है. वायुसेना चीफ आरकेएस भदौरिया ने कहा कि राफेल के आने से वायुसेना की ताकत बढ़ी है और ये हमें आगे तक मजबूत करेगा. इससे हम जल्दी और ठोस कार्रवाई कर पाएंगे. उन्होंने कहा कि अगले पांच साल में तेजस, कॉम्बैट हेलिकॉप्टर, ट्रेनर एयरक्राफ्ट समेत कई अन्य ताकतवरहथियार वायुसेना की ताकत बनेंगे. लद्दाख सीमा पर जारी तनाव के बीच वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया का बड़ा बयान सामने आया है.

वायुसेना चीफ ने कहा है कि भारत उत्तर भारत में दोनों फ्रंट पर युद्ध के लिए तैयार है. यानी चीन और पाकिस्तान की ओर से जो तनाव की स्थिति बन रही है, उसपर भारत हर तरीके से मुस्तैद है. आरकेएस भदौरिया ने कहा कि वायुसेना भारत और चीन के साथ दोनों फ्रंट पर एक साथ जंग के लिए पूरी तरह से तैयार है. उन्होंने कहा कि चीन की हरकत के बारे में मई में ही पता लग गया था, तभी से ही भारतीय सेना और वायुसेना की ओर से एक्शन लिया गया. वायुसेना प्रमुख बोले कि ईस्टर्न फ्रंट पर वायुसेना मुस्तैद है और ऐसा कोई सवाल ही नहीं होता कि चीन हमसे किसी भी तरह से बेहतर स्थिति में हो. उन्होंने कहा कि वक्त के साथ वायुसेना ने बहुत तेजी से बदलाव किए हैं और अब काफी हदतक कमियों को दूर कर लिया गया है. वायुसेना प्रमुख ने कहा कि हमने सीमा से जुड़े हर अहम हिस्से पर अपनी मौजूदगी बढ़ाई है, लद्दाख उसका सिर्फ एक हिस्सा है. ऐसे में देश को भरोसा रखना चाहिए कि उनकी सेना पूरी तरह तैयार है. आपको बता दें कि भारत और चीन के बीच मई के बाद से ही सीमा पर तनाव की स्थिति बनी हुई है. सेना के साथ-साथ वायुसेना ने भी लेह-लद्दाख के इलाकों में अपनी मौजूदगी बढ़ाई है. वायुसेना लगातार जरूरी सामान ले जाने में मदद कर रही है, इसके अलावा कई लड़ाकू विमान लद्दाख के आसमान में पैनी निगाहें बनाए हुए हैं.

Spread the love
More from National NewsMore posts in National News »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: